राम मंदिर निर्माण

Ram Mandir Ayodhya: श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट (Shri Ram Janambhumi Teerth Kshetra Trust) के सदस्य अनिल मिश्रा (Anil Mishra) ने राम मंदिर (Ram Mandir) निर्माण को लेकर बड़ी जानकारी दी है।

Mathura Krishna Janmbhoomi: अयोध्या(Ayodhya) मामले में सुप्रीम कोर्ट से राम मंदिर(Ram Mandir) निर्माण को लेकर फैसला आने के बाद से ही एक पक्ष अब काशी और मथुरा के मामले में भी लगातार लामबंदी कर रहा है।

Ram Janmbhumi Teerth Kshetra Trust: अयोध्या(Ayodhya) में 5 अगस्त को पीएम मोदी(PM Modi) द्वारा भूमिपूजन(Bhumi Poojan) होने के बाद से मंदिर निर्माण का कार्य तेजी के साथ चल रहा है। ऐसे में इस निर्माण के लिए दान देने का सिलसिला भी तेजी से जारी है।

अयोध्या(Ayodhya) में मंदिर निर्माण(Ram Mandir) का कार्य आगे बढ़ रहा है। शुक्रवार को परीक्षण के लिए भूमि के नीचे सौ फुट गहराई तक का पहला स्तम्भ तैयार हो चुका है।

रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट (Ramjanmabhoomi Tirtha Kshetra Trust) की मंदिर (Ram Mandir) निर्माण समिति की बैठक एक दिन पहले हो चुकी है। इस बैठक में पत्थरों के मध्य जोड़ में दस-दस हजार तांबे की राड के अलावा ताम्र पत्र लगाने के निर्णय के बाद श्रद्धालुओं में ताम्र पत्र व राड को दान (Donation) करने की होड़ मच गयी है।

पीएम मोदी(PM Modi) 5 अगस्त को राम मंदिर निर्माण(Ram Mandir Nirman) के लिए भूमि पूजन कार्यक्रम में शामिल हुए थे। उन्होंने राम मंदिर की आधारशिला रखी थी। इस दौरान यूपी सीएम योगी(CM Yogi) आदित्यनाथ ने कहा था कि 5 शताब्दी के बाद संकल्प पूरा हो गया।  प्रधानमंत्री जी ने लोकतांत्रिक तरीके से इसका समाधान निकाला।

अखंड भारत (India) भारतवासियों के लिए केवल शब्द नहीं है। यह हमारी श्रद्धा, भाव, देशभक्ति व संकल्पों का अनवरत प्रयास है जिसे प्रत्येक देशभक्त जीवंत महसूस करता है।

ऐसे में राम मंदिर निर्माण के लिए बड़ी संख्या में चंदा दिया जा रहा है। जिससे मंदिर निर्माण सुचारू रूप से किया जा सके।

बता दें कि अयोध्या में 5 अगस्त को राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन किया गया। इसको लेकर समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान ने विवादित टिप्पणी की है।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित 5 कालिदास मार्ग पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आधिकारिक आवास को अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए भूमि पूजन की पूर्व संध्या पर दीयों से सजाया गया है।