राम मंदिर

Ram Mandir Fake Donation: बता दें कि भव्य राम मंदिर(Ram Mandir) के निर्माण के लिए परिषद द्वारा एक राष्ट्रव्यापी अभियान चलाया जा रहा है, जिसके तहत लोगों से स्वैच्छिक तौर पर चंदा इकट्ठा करने का काम किया जा रहा है।

राम भक्तों के लिए बड़ी खुशखबरी सामने आ रही है। राम मंदिर निर्माण (Ram temple construction) के लिए नींव खुदाई का कार्य शुरू हो गया। ऐसे में राम भक्तों के लिए बड़ी खबर है। मंदिर निर्माण का काम काफी जल्दी हो रहा है।

Ram Mandir: तस्लीमा नसरीन (Taslima Nasreen) ने इस बार अयोध्या (Ayodhya) में बन रहे राम मंदिर को लेकर बयान दिया है और मुस्लिम लोगों से अपील की है कि भारत में बन रहे इस मंदिर के लिए धन जुटाने के काम में वह भी आगे आएं और बढ़ चढ़कर इसमें हिस्सा लें।

Ram Mandir construction in Ayodhya: इस बीच बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार ने राम मंदिर निर्माण के लिए योगदान दिया है। इसकी जानकारी खुद उन्होंने ट्विटर के जरिए दी है। साथ ही उन्होंने एक वीडियो भी शेयर किया है।

राम मंदिर (Ram temple) निर्माण के लिए शुक्रवार से चंदा जुटाने का अभियान शुरू हो चुका है। देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ram Nath Kovind) ने राम मंदिर के लिए सबसे पहले चंदा दिया। साथ ही इस अभियान की शुरुआत की। उन्होंने 5 लाख 100 रुपये का चंदा दिया।

Uttar Pradesh: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुरादाबाद से सपा सांसद एसटी हसन (ST Hasan) ने राम मंदिर को लेकर विवादित टिप्पणी की है। इतना ही नहीं उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा राम मंदिर निर्माण के जरिए राजनीति कर रही है।

Ayodhya: भगवान राम की नगरी अयोध्या (Ayodhya) को दुनिया में बेहतरीन बनाने के उद्देश्य से कई काम किए जा रहे हैं। इसके साथ ही इस बात पर भी ध्यान दिया जा रहा है कि साफ-सफाई के मामले हो या सुविधा के मानक अयोध्या को सर्वोत्तम बनाने की कवायद शुरू हो गई है। योगी सरकार (Yogi Adityanath) की तरफ से इसके लिए IIM इंदौर का चयन किया गया है।

Manoj Joshi requested Home Minister Shah to ban PFI: बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता मनोज जोशी (Manoj Joshi) सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं और अक्सर समसामयिक मुद्दों पर अपनी राय रखते रहते हैं।

Uttar Pradesh: करीब 500 वर्षों की प्रतीक्षा के बाद देश दुनिया में करोड़ों हिदुओं के आराध्य मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम के भव्य मंदिर का शिलान्यास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों करवाने के साथ ही योगी सरकार ने अयोध्‍या और आस पास के तमाम इलाकों के विकास का सबसे बड़ा खाका खींच दिया।

Uttar Pradesh: समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) हमेशा से अयोध्या में श्री राम मंदिर बनने का विरोध करती रही है। मुलायम सिंह की हिन्दुत्ववादी संगठन और कई लोग आलोचना भी करते आए हैं क्योंकि जब 2 नवंबर, 1990 को अयोध्या में कारसेवकों ने रैली की थी, तब उन्होंने पुलिस को गोली चलाने का आदेश दिया था, जिसमें कई कारसेवकों की भी मौत हो गई थी। उस समय वह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री थे।