रायबरेली

विधायक अदिति सिंह आज रायबरेली के सिविल लाइन चौराहे पर कमला नेहरू ट्रस्ट की जमीन पर कई दशकों से काबिज पटरी दुकानदारों को कोर्ट के आदेश पर वहां से हटाने के लिए जिला प्रशासन के नोटिस जारी करने के बाद सदर विधायक उन दुकानदारों के पक्ष में खुल कर उतर आई।

उन्होंने आगे कहा कि वह लगातार जिला अधिकारियों के संपर्क में रही हैं और यह सुनिश्चित करने के लिए प्रयास किया है कि हर संबंधित व्यक्ति को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ मिल सकें। उन्होंने पूछा, "कृपया हमें बताएं कि कितनी बार सोनिया जी ने अपने निर्वाचन क्षेत्र के लिए इस तरह के प्रयास किए हैं?"

उत्तर प्रदेश में रायबरेली से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह के तेवर इन दिनों कुछ बदले-बदले से नजर आ रहे हैं। विधायक अदिति सिंह ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से कांग्रेस का नाम हटा दिया है।

इन दिनों आंतरिक कलह से जूझ रही कांग्रेस ने रायबरेली सदर विधायक अदिति सिंह की सदस्यता समाप्त करने के लिए विधानसभा अध्यक्ष को याचिका दी है। कांग्रेस विधानसभा में विधायक दल की नेता आराधना मिश्रा ने यूपी सदस्य दल परिवर्तन की निर्भरता नियमावली 1987 के तहत नोटिस दिया है।

उत्तर प्रदेश सरकार ने गांधी जयंती पर विधानमंडल का विशेष सत्र बुलाया था, लेकिन कांग्रेस पार्टी ने इस सत्र का बहिष्कार किया था। पार्टी के सत्र बहिष्कार के बावजूद रायबरेली सदर से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने सत्र में हिस्सा लिया था। अब कांग्रेस अदिति के खिलाफ कार्रवाई करने को लेकर ऊहापोह की स्थित में है।

विशेष सत्र के कांग्रेस के बहिष्कार के बावजूद सत्र में शामिल होने वाली विधायक अदिति सिंह को पार्टी ने 'कारण बताओ' नोटिस जारी किया है। जवाब देने के लिए अदिति सिंह को 2 दिन का समय दिया गया है।

सूत्रों के अनुसार, दोनों विधायक निष्कासित होने का इंतजार कर रहे हैं, ताकि उनकी सदस्यता रद्द न की जा सके। कांग्रेस विधायक फिलहाल इस्तीफा देकर अपनी-अपनी सीटों से दोबारा चुनाव लड़ने के लिए उत्सुक नहीं दिख रहे हैं।

कांग्रेस ने विधानसभा के विशेष सत्र के बहिष्कार का ऐलान किया था, लेकिन रायबरेली से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह न केवल विशेष सत्र में पहुंची, बल्कि उन्होंने अपने विचार भी रखे। अदिति ने सतत विकास के लक्ष्य पर कहा कि वह दलगत भावना से ऊपर उठकर राष्ट्रपिता के सम्मान में सदन में आई हैं।

योगी इस दौरान सरकार की उपलब्धियां गिनाएंगे। प्रियंका गांधी रायबरेली में लालूपुर में कांग्रेस विधायक अदिति सिंह के घर जाकर उनके पिता स्वर्गीय अखिलेश सिंह के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त करने के लिए पहुंच चुकी हैं।

अखिलेश सिंह के निधन से जिले में शोक की लहर है। उनके परिवार के एक सदस्य ने बताया कि अखिलेश सिंह के परिवार में पत्नी और दो बेटियां हैं। एक पुत्री आदिति सिंह रायबरेली सदर से विधायक हैं।