राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अगले हफ्ते भारत दौरे पर होंगे और दिल्ली, अहमदाबाद-आगरा का दौरा करेंगे। अपने पहले भारत दौरे पर आ रहे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के स्वागत के लिए अहमदाबाद पूरी तरह से तैयार है।

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा कि हाल के दिनों में तालिबान के साथ शांति वार्ता में 'काफी महत्वपूर्ण सफलता' मिली है। इससे पहले, रक्षा मंत्री मार्क एस्पर ने कहा था कि उन्होंने एक सप्ताह तक हिंसा में कमी के लिए 'एक प्रस्ताव पर बातचीत की'।

प्रधानमंत्री मोदी ने बुधवार को ट्वीट किया, "मुझे बहुत खुशी है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और मेलानिया ट्रंप 24-25 फरवरी को भारत दौरे पर आएंगे। भारत अपने सम्मानित अतिथियों का शानदार स्वागत करेगा।"

सीनेट ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को महाभियोग के दोनों आरोपों से बरी कर दिया और इसके साथ ही मामले में यह ऐतिहासिक ट्रायल समाप्त हो गया। वर्ष 2016 के चुनाव में हार के बाद डेमोक्रेट्स ने यह पहल की थी।

मध्य पूर्व के लिए अमेरिका द्वारा हाल ही में पेश की गई शांति योजना के खिलाफ ट्यूनीशिया की राजधानी ट्यूनिश के मध्य में सैकड़ों प्रदर्शनकारियों ने प्रदर्शन किया। इस योजना को 'डील ऑफ द सेंचुरी' के नाम से भी जाना जाता है।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ हाउस डेमाक्रेट्स के महाभियोग लाने पर व्हाइट हाउस की कानूनी टीम ने पहली बार औपचारिक प्रतिक्रिया देते हुए इसे 'क्रूर और गैरकानूनी' बताया है।

ईरान-अमेरिका तनाव के बीच एक बार फिर बगदाद पर रॉकेट दागे जाने की खबर आई है। इराक स्थित अमेरिकी दूतावास पर रॉकेट से हमला किया गया। रॉकेट अमेरिकी दूतावास से करीब 100 मीटर दूर गिरी।  

अमेरिका के राष्ट्रपतिc ने कांग्रेस से कहा है कि ईरानी सैन्य कमांडर मेजर जनरल कासिम सुलेमानी की मौत के बदले में ईरान के किसी भी हमले के जवाब में अमेरिकी कार्रवाई की जानकारी लेने के लिए वह ट्रंप को ट्विटर पर फॉलो करे।

अमेरिकी कांग्रेस में शीर्ष डेमोक्रेट नैंसी पेलोसी ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को 'महाभियोग' मामले के बीच चार फरवरी को स्टेट ऑफ द यूनियन भाषण के लिए आमंत्रित किया है। बीबीसी की शुक्रवार की रिपोर्ट के अनुसार, वार्षिक भाषण सीनेट में उनकी सुनवाई के दौरान या तुरंत बाद होगा। मामले में वे दोषी ठहराए जा सकते हैं।

अमेरिका में डेमोक्रेटिक की अगुआई वाले हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव ने बुधवार को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव में वोट दिया। इसके साथ इस सदन में उनपर महाभियोग प्रस्ताव पारित हो गया है। ट्रंप पर कांग्रेस को बाधित करने और सत्ता का दुरुपयोग करने का आरोप है।