राष्ट्रपति हसन रूहानी

राष्ट्रपति ने कहा कि वर्तमान ईरानी कैलेंडर जो कि 20 मार्च 2021 को समाप्त होने वाला है, उसके अंत तक देश बीमारी की चपेट में होगा। उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारियों से कोविड-19 संक्रमण से निपटने के लिए पर्याप्त चिकित्सा उपकरण और उपचार सेवाएं प्रदान करने का आह्वान किया।

ब्रिटेन के विदेश दूत डोमिनिक राब ने विभिन्न पक्षों से अपील की कि सोलेमानी की मौत के बाद मुठभेड़ की स्थिति को शिथिल बनाएं। उन्होंने कहा कि मुठभेड़ हमारे हित के अनुरूप नहीं है।

ईरानी जनरल कासिम सुलेमानी के मारे जाने के बाद ईरान और अमेरिका में तनाव बढ़ गया है। ऐसे में दोनों देशों के प्रमुखों की तरफ से उग्र बयानबाजी देखने को मिल रही है।

रूहानी ने कहा कि वाशिंगटन द्वारा गत वर्ष परमाणु समझौते से बाहर निकलने के बाद दोबारा लगाए गए प्रतिबंधों को हटाने के तुरंत बाद ईरान पी फाइव प्लस वन देशों (अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, ब्रिटेन, जर्मनी, रूस और चीन के) के फ्रेमवर्क के अंतर्गत वार्ता करने के लिए तैयार है।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रविवार को कहा कि उनकी इस सप्ताह संयुक्त राष्ट्र महासभा सत्र के दौरान ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी के साथ मुलाकात करने की कोई योजना नहीं है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, तुर्की के अंकारा के लिए तेहरान से रवाना होने से पहले रविवार को रूहानी ने कहा, "इस क्षेत्र में जो कुछ हो रहा है ..अमेरिका की गलत योजनाओं और साजिशों का परिणाम है।"

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, रविवार को कतर के अमीर शेख तमीम बिन हमद अल थानी के साथ टेलीफोन पर बातचीत में रूहानी ने कहा कि अमेरिका सहित कुछ अतिरिक्त -क्षेत्रीय देश दुनिया को यह विश्वास दिलाने की कोशिश कर रहे हैं कि खाड़ी क्षेत्र असुरक्षित है।