राष्ट्रीय युद्ध स्मारक

कोविंद ने गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा, "गांधीजी के सत्य और अहिंसा के संदेश को आत्मसात करना हमारी दिनचर्या का हिस्सा होना चाहिए, जो हमारे समय में और ज्यादा आवश्यक हो गया है।"

जहां देशभर में 26 जनवरी का दिन बड़े ही उत्साह और देशभक्ति की भावना से मनाया जाता है तो वहीं इस बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुछ ऐसा करने जा रहे हैं जो पहली बार होगा।