राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ

सुप्रीम कोर्ट से अयोध्या मुद्दे पर आए निर्णय के बाद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) बहुत फूंक-फूंक कर कदम रख रहा है। संघ इस मुद्दे पर बहुत सावधानी से आगे बढ़ना चाहता है। इसी कारण इस बार छह दिसंबर को होने वाले शौर्य दिवस को आयोजित नहीं करने का निर्णय लिया गया है।

इंद्रेश कुमार ने कहा, "वहां यह प्रश्न है कि क्या वे (फिरोज खान) अपना दायित्व ईमानदारी से निभा पाएंगे? इसकी आश्वस्ति उनकी की तरफ से नहीं आई है। इसलिए झंझट बढ़ गई है। क्या अपने दायित्वों से वह न्याय कर पाएंगे? क्या एक नए भारत को वह मजबूत कर पाएंगे?"

विगत कुछ दिनों से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को लेकर आम चर्चा है उस पर एक पुस्तक विमोचन कार्यक्रम में देश के पूर्व मुख्यन्यायधीश जो की समाज के दलित वर्ग से आते हैं उनके द्वारा कार्यक्रम में सामाजिक न्याय के विषय को उठाना।

पेशे से स्कूल शिक्षक बंधु प्रकाश पाल समेत उनकी गर्भवती पत्नी और 6 साल के बेटे की उनके घर पर ही हत्या कर दी गई है। जानकारी के मुताबिक, बंधु प्रकाश पाल राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सदस्य थे।

RSS के सह सर कार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल शर्मा ने कहा कि संघ केवल भारत में है। हमारी कोई शाखा दुनिया में कहीं नहीं है, ऐसे में पाकिस्तान हमसे क्यों नाराज है? इसका मतलब है कि वह अगर संघ से नाराज है तो कहीं भारत से नाराज है।

आरएसएस प्रमुख अंतर्राष्ट्रीय प्रकाशनों और समाचार चैनलों के करीब 70 पत्रकारों से बातचीत करेंगे और विभिन्न मसलों पर उनके सवालों का जवाब देंगे जिसमें किसी भी विषय के लिए मना नहीं किया जाएगा।

सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को अयोध्या विवाद मामले में दैनिक सुनवाई की रिकॉर्डिंग की मांग वाली याचिका को प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ के समक्ष भेज दिया है। भाजपा के पूर्व नेता व राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के विचारक केएन गोविंदाचार्य ने इस संबंध में याचिका दाखिल की है।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की एक पहल मेडिकल के क्षेत्र में गरीबों के इलाज के नए रास्ते खोलने जा रही है। आरएसएस से जुड़े संस्थान सेवा भारती की इस पहल में एमबीबीएस डॉक्टर बीमार लोगों का उनके घर जाकर इलाज करेंगे।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि यह अब संभव नहीं है। शनिवार को दाखिल की गई अपनी याचिका में गोविंदाचार्य ने मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ से अयोध्या मामले की सुनवाई की लाइव स्ट्रीमिंग कराने का आग्रह किया था। अयोध्या मामले की सुनवाई शुरू हो चुकी है।

यूं तो आरएसएस के विद्या भारती की ओर से देश भर में शिशु मंदिर जैसे 13 हजार से अधिक स्कूल संचालित होते हैं। मगर यह अब तक का पहला स्पोर्ट्स स्कूल होगा, जहां राष्ट्रीय से लेकर अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी तैयार किए जाएंगे।