राहुल गांधी

अमित शाह ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को यह साबित करने की चुनौती दी कि संशोधित नागरिकता कानून किसी भी भारतीय मुस्लिम की नागरिकता छीन लेगा।

वीर सावरकर को लेकर कांग्रेस और शिवसेना के बीच एक बार फिर तकरार बढ़ सकती है। शिवसेना सांसद संजय राउत ने सावरकर के मामले को लेकर कांग्रेस पर सीधा हमला बोला है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आलोचक कहे जाने वाले जाने-माने इतिहासकार रामचंद्र गुहा ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को लेकर बड़ा बयान दिया है। रामचंद्र गुहा ने कहा है कि लोकसभा चुनाव में वायनाड से राहुल गांधी को चुनकर केरल के लोगों ने विनाशकारी काम किया है।

भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जे. पी. नड्डा ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर सीधा हमला बोलते हुए उन्हें नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) पर दस लाइनें बोलने की चुनौती दी है।

अभिव्यक्ति की आजादी को लेकर वैसे तो कांग्रेस हमेशा मोदी सरकार पर निशाना साधती रही है लेकिन जब उसके खुद के नेता इस आजादी का फायदा उठाकर जनता द्वारा चुने गए प्रधानमंत्री के लिए अपशब्दों का प्रयोग करते हैं तो कांग्रेस आलाकमान चुप्पी साध लेती है।

संजय राउत ने कहा कि मैं इंदिरा, नेहरू और गांधी परिवार का हमेशा सम्मान करते हुए आया हूं। जब मैं विपक्ष में था तो उस वक्त भी मैं इंदिरा जी का सम्मान करता था। जब-जब इंदिरा गांधी पर हमला हुआ तो मैंने उनका बचाव किया था।

राहुल गांधी ने कहा, ‘‘इस स्थिति को ठीक करने की बजाय नरेंद्र मोदी ध्यान भटकाने और देश को बांटने की कोशिश कर रहे हैं। देश की जनता समझती है कि मोदी जी अर्थव्यवस्था, रोजगार और देश के भविष्य के मुद्दों पर विफल हो गए हैं।’’

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर विपक्ष पर हमला बोला है।

गुरुवार को प्रधानमंत्री ने 30 से ज्यादा प्रमुख अर्थशास्त्रियों व कारोबारी नेताओं से दो घंटे तक मुलाकात की और अर्थव्यवस्था को लेकर सलाह-मशविरा किया। इस बैठक में वरिष्ठ कैबिनेट मंत्रियों अमित शाह, नितिन गडकरी, पीयूष गोयल, नीति आयोग के उपाध्यक्ष व वित्त विभाग के अधिकारी शामिल थे।

राहुल गांधी की यह टिप्पणी अखिल भारतीय ट्रेड यूनियन कांग्रेस (एआईटीयूसी), भारतीय व्यापार संघ (सीटू), भारतीय राष्ट्रीय ट्रेड यूनियन कांग्रेस और लेबर प्रोग्रेसिव फेडरेशन (एलपीएफ) द्वारा केंद्र की नीतियों के विरोध में की गई राष्ट्रव्यापी हड़ताल के मद्देनजर आई।