राहुल गांधी

कांग्रेस की ये बैठक संसद सत्र से पहले हुई है। इस बैठक में एके एंटनी, जयराम रमेश, गुलाम नबी आजाद, मल्लिकार्जुन खड़गे मौजूद थे। बैठक पार्टी के वरिष्ठ नेता एके एंटनी की अध्यक्षता में हुई।

सोमवार को पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और अहमद पटेल से मुलाकात की। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, देवगौड़ा ने राहुल से कहा कि कांग्रेस ये मांग नहीं उठा सकती कि दो निर्दलीय विधायकों को जनता दल सेक्युलर के कोटा से मंत्री बना दिया जाए। इसके अलावा राहुल से देवगौड़ा ने यह तक कह दिया कि अगर सब ठीक नहीं रहा तो कांग्रेस से जेडीएस गठबंधन तोड़ देगी।

पंजाब सरकार में घमासान बढ़ता ही जा रहा है। सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ चल रहे विवाद के बीच मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने सोमवार को दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की। सिद्धू ने कांग्रेस अध्यक्ष को एक खत भी सौंपा है। सिद्धू ने राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा और अहमद पटेल के साथ मुलाकात की तस्वीर को ट्वीट करते हुए लिखा कि उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष को खत सौंपा है और उन्हें हालात से अवगत कराया है।

ओवैसी ने कहा कि लोकसभा चुनाव में भाजपा के कारण नहीं बल्कि क्षेत्रीय दलों के कारण कांग्रेस की पंजाब और केरल जैसे राज्यों में हार हुई है। उन्होंने कहा कि राहुल खुद अमेठी से हार गए लेकिन वायनाड से जीते क्योंकि वहां 40 प्रतिशत  मुसलमान रहते हैं।

लोकसभा चुनावों में राहुल गांधी जिस तेवर से भाजपा और मोदी सरकार पर बरस रहे थे उनका वो तेवर अब भी जारी है और उन्होंने पीएम मोदी पर फिर से निशाना साधा है।

कांग्रेस अध्यक्ष के साथ प्रदेश पार्टी अध्यक्ष मुल्लापल्ली रामचंद्रन, विपक्ष के नेता रमेश चेन्निथला और एआईसीसी के महासचिव (संगठन) के.सी. वेणुगोपाल मौजूद थे। 

कांग्रेस 17 जून से शुरू हो रहे संसद सत्र से पहले इसपर अंतिम फैसला करेगी। सूत्रों के मुताबिक, राहुल गांधी के केरल के वायनाड से लौटते हुए फैसला ले लिया जाएगा। फिलहाल राहुल गांधी अभी वायनाड के दौरे पर हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और उनकी बहन व पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले में ढाई साल की बच्ची की निर्मम हत्या की निंदा की और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार को मतदाताओं का आभार जताने के लिए अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड जाएंगे। लोकसभा चुनाव में जीत के बाद यह उनका पहला दौरा है।

राहुल ने कहा, कोई ऐसा संस्थान नहीं है जो आप से न लड़ा हो और आपको लोकसभा में आने से रोकने का प्रयास न किया हो। आप उन सभी संस्थानों से लड़े और आपको लोकसभा में पहुंचने के लिए अपना रास्ता बनाने को मजबूर किया गया।