राहुल गांधी नेतृत्व

कांग्रेस के लिए चिंता की बात यह है कि राहुल की सबसे अच्छी स्वीकार्यता रेटिंग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सबसे खराब रेटिंग के करीब है। राहुल को सबसे ज्यादा बढ़त तमिलनाडु में मिली है, जहां मोदी की रेटिंग सबसे खराब है।