रूस

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में शुक्रवार को चीन की मांग पर जम्मू-कश्मीर मुद्दे को लेकर बैठक हुई। एक तरफ जहां यूएनएससी में कश्मीर को लेकर रूस भारत के पक्ष में नजर आया। तो वहीं चीन, पाकिस्तान के सुर में सुर मिलाते हुए दिखा। हालांकि रूस ने कश्मीर को लेकर सिर्फ द्विपक्षीय बातचीत का समर्थन किया है।

रूस को उम्मीद है कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगामी दौरे से दोनों देशों के बीच आर्थिक सहयोग बढ़ेगा, क्योंकि भारत ने घोषणा की है कि वह इस देश में निवेश बढ़ाएगा।

विभागीय सूत्रों की मानें तो मुख्यमंत्री तक कई पुलिस अफसरों की सीधी शिकायत पहुंची थी। रूस रवाना होने से पहले मुख्यमंत्री ने ऐसे अफसरों को चिह्न्ति कर जमकर फटकार लगाई और कार्रवाई की चेतावनी दी थी। कुछ जिलों के कप्तानों से तो वह बेहद खफा नजर आए।

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान बौखलाए हुआ है। उसने भारत के साथ सभी द्विपक्षीय रिश्ते समाप्त करने का फैसला किया है और विश्व की बड़ी शक्तियों को इस मुद्दे पर दखल देने की अपील कर रहा है। लेकिन उसे अभी तक निराशा ही हाथ लगी है।

किर्जियोस ने फाइनल में रूस के डेनियल मेडवेडेव को 7-6 (8-6) 7-6 (7-4) से मात देकर यह खिताब अपने नाम किया है। मैच के बाद किर्जियोस ने कहा कि यह उनके जीवन के सबसे बेहतरीन सप्ताहों में से एक रहा है।

न्याय विभाग द्वारा जारी की गई नई फाइलिंग में यह बात सामने आई है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने शुक्रवार को फाइलिंग के हवाले से बताया करीब दो साल की जांच में मुलर ने सीधे अपने ऑफिस पर करीब 1.6 करोड़ डॉलर खर्च किए।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, आयोजको ने कहा कि 10 से 18 अगस्त तक होने वाले टूर्नामेंट के मुख्य ड्रॉ में दोनों खिलाड़ी खेलेंगे। टूर्नामेंट निदेशक आंद्रे सिल्वा ने कहा, "मारिया और वीनस टेनिस के इतिहास के दो महान चैम्पियन हैं। हम दोनों के इस विश्व स्तरीय फील्ड से जुड़ने और प्रतियोगिता के शुरू होने के लिए उत्सुक हैं।"

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने स्पूतनिक के हवाले से कहा कि रूस से 12 जुलाई के बाद वायु रक्षा प्रणाली के तत्वों की पहली खेप के साथ 30 विशेष उड़ानें भेजी गईं। दोनों देश इस मुद्दे पर लगातार सहयोग के लिए वार्ता कर रहे हैं। इस मुद्दे पर तुर्की में एस-400 प्रणाली के तत्वों का लाइसेंसीकृत उत्पादन के संगठन की अनुमति देना भी है।

पिछले महीने बिश्केक में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के राष्ट्राध्याक्षों के परिषद (सीएचएस) के 19वें सम्मेलन से इतर दोनों नेताओं के बीच मुलाकात के दौरान रूस के राष्ट्रपति द्वारा दिए गए आमंत्रण को खान ने स्वीकार कर लिया है।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान सितंबर में रूस में होने वाले एक महत्वपूर्ण आर्थिक फोरम में शामिल होंगे। खान को रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से ईस्टर्न इकनॉमिक फोरम में शामिल होने का न्योता मिला है।