लखनऊ

Uttar pradesh news: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने शुक्रवार को लखनऊ में पंडित दीनदयाल उपाध्याय सूचना भवन का लोकार्पण किया। इस दौरान उन्होंने मान्यता प्राप्त पत्रकारों के लिए पांच लाख रुपये स्वास्थ्य बीमा देने की घोषणा की।

Yogi Adityanath Government: देश इस समय कोरोना संकट (Corona Crisis) से जूझ रहा है। एक तरफ जहां लोगों को रोजगार संकट (Employment Crisis) और वेतन कटौती (Salary Deduction) का सामना करना पड़ रहा है। वहीं, दूसरी तरफ यूपी (Uttar Pradesh) के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) की सरकार प्रदेश में रोजगार दे रही है।

Covid-19 Protocol: कोविड-19 (Coronavirus) मरीजों के इलाज में ढिलाई बरतने के कारण हुई 48 मरीजों की मौत के बाद लखनऊ (Lucknow) प्रशासन ने 4 निजी अस्पतालों को नोटिस दिया है।

लखनऊ(Lucknow) में बुधवार को रोडवेज की 2 बसों की टक्कर हो गई। पीछे से एक ट्रक(truck) भी जा भिड़ा। हादसे में 6 लोगों की मौत हो गई है। करीब 8 यात्री घायल हुए हैं। हादसा काकोरी-हरदोई रोड पर बाजनगर गांव के पास हुआ।

पोस्टर(Poster) में सीएम योगी आदित्यनाथ(CM Yogi) को ब्राह्मणों पर फरसे से हमला करते हुए दिखाया गया है। सीएम योगी के पीछे केशव प्रसाद मौर्य समेत दूसरे नेताओं की तस्वीरें भी लगाई गई हैं।

कोरोना संकट को देखते हुए लखनऊ विश्वविद्यालय ने गरीबों की मदद के लिए एक पहल करते हुए मास्क बैंक की स्थापना की है। बैंक के माध्यम से जरूरतमंदों, मलिन बस्ती और ग्रामीणों को मास्क का नि:शुल्क वितरण किया जाएगा।

डॉ. कपूर का कहना है कि सपा संरक्षक का इलाज डॉक्टरों की नगरानी में चल रहा है। उनका अल्ट्रासाउंड, ब्लड टेस्ट और यूरिन टेस्ट किया गया है। पेटदर्द कम हुआ है और हालत स्थिर है। उन्होंने कहा कि सभी रिपोर्टो के मूल्यांकन के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

मृत जोड़ी की पहचान नैंसी और राहुल के रूप में हुई। लड़की का शव बेड पर पड़ा मिला, जबकि लड़के का शव छत के हुक से लटका मिला।

गौरतलब हो कि उत्तर प्रदेश के अमेठी स्थित जामों कोतवाली क्षेत्र के कस्बा निवासी सोफिया व अलगू के बीच नाली के विवाद को लेकर बीते नौ मई को मारपीट हो गई थी। जिसके बाद सोफिया की बेटी गुड़िया की ओर से अलगू के बेटे अर्जुन सहित चार लोगों पर छेड़छाड़ का केस दर्ज कराया गया था।

लखनऊ में लोकभवन के सामने मां-बेटी ने आत्मदाह का प्रयास किया जिसमें गंभीर हालत में दोनों को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया। न्याय न मिलने से मां-बेटी नाराज थीं।