लद्दाख

India China Standoff: भारत और चीन के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर तनाव लगातार बना हुआ है। लद्दाख में कई जगह ऐसी हैं जहां भारत और चीन की सेनाएं बिल्कुल आमने-सामने मौजूद हैं।

लद्दाख (Ladakh) में भारत और चीनी सैनिकों के बीच सात सितंबर की झड़प के बाद लगभग 40 से 50 चीनी सैनिक भाले, बंदूक और तेज धार वाले हथियारों से लैस होकर पूर्वी लद्दाख में रेजांग ला (Rezang la) के उत्तर में ऊंचाई वाले स्थानों पर भारतीय सेना (Indian Army) की पोजिशन से कुछ मीटर की दूरी पर आ गए हैं।

लद्दाख(Laddakh) के लोगों के लिए देश ही सर्वप्रथम है। वह अपनी मिट्टी की रक्षा के लिए हमेशा भारतीय सेना(Indian Army) के साथ खड़े दिखते हैं। 1999 में करगिल(Kargil) युद्ध के दौरान भी लद्दाख के लोगों ने सेना की खूब मदद की थी।

आईटीबीपी(ITBP) के आईजी (ऑपरेशंस) एमएस रावत(MS Rawat) ने अखबार से बातचीत करते हुए कहा, 'ITBP के डीजीपी एसएस देसवाल पिछले हफ्ते जवानों के साथ LAC पर एक हफ्ते रुके थे।

मोदी सरकार (Modi Government) की महत्वाकांक्षी योजना 'वन नेशन वन राशन कार्ड' (one nation one ration card) से लक्षद्वीप (Lakshadweep) और लद्दाख (Ladakh) के जुड़ने के बाद अब 26 राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों में राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी उपलब्ध हो गई है।

लद्दाख (Laddakh) में भारतीय सेना (Indian Army) अब और भी सतर्क हो गई है। भारतीय सेना ने चीन (China) को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए सैन्य ताकत और बढ़ा दी है।

एक बार फिर लद्दाख (Ladakh Border) सीमा पर चीनी सैनिकों की घुसपैठ की साजिश होने पर कांग्रेस (Congress) ने सोमवार को मोदी सरकार (Modi Govt) पर निशाना साधा तो भाजपा (BJP) ने भी जवाबी हमला बोला।

सोशल मीडिया(Social Media) में ऐसी तस्वीरें वायरल हो रही हैं जो गलवान(Galwan) में मारे गए चीनी सैनिकों के कब्र की बताई जा रही है। इनमें साफ देखा जा सकता है कि एक जगह पर 35 से अधिक सैनिकों की कब्र है।

भारत और चीन में सीमा विवाद (India China Border Dispute) के बीच भारत हिमाचल प्रदेश के दारचा (Darcha) से लद्दाख (Laddakh) तक जाने वाली 290 किमी लंबी सड़क तेजी से (India Making Road) बना रहा है। इससे अग्रिम मोर्चे तक भारी हथियार (Heavy Weapons) और सैनिक ( and soldiers) ले जाने में आसानी होगी।

चीन सीमा पर चल रहे तनाव के बीच बीआरओ ने लद्दाख में Lukung को Khakted से जोड़ने वाली सड़क का काम पूरा कर लिया है।