लाइफस्टाइल

दिल्ली सरकार ने केंद्र से कई बार वायु प्रदूषण के खिलाफ कदम उठाने का आग्रह किया, क्योंकि उसने इसके लिए पड़ोसी राज्यों में पराली जलाए जाने को जिम्मेदार ठहराया है।

इस रिपोर्ट में स्वास्थ्य के मुद्दे को नीति निर्माण के केन्द्र में रखा गया है, जिसमें भारत की स्वास्थ्य प्रणाली में संपूर्ण सुधार के लिए एक स्पष्ट मार्गनिर्देश प्रस्तुत किया गया है।

करीब 28 ग्राम अजवाइन के रस का सेवन करें इससे गुर्दे को डिटॉक्स करने में मदद मिलेगी और आपका शरीर क्षारीय होगा और आपकी कार्यक्षमता बढ़ेगी।

हरी सब्जियों में भरपूर पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं। कहते हैं कि हरी सब्जियां खाने से इंसान शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से स्वस्थ्य रहता है, लेकिन क्या आपको पता है कि लाल रंग के फल और सब्जियों में भी कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए काफी जरूरी हैं।

नेचर डिजिटल मेडिसिन जर्नल में प्रकाशित अध्ययन में कहा गया है यूनिवर्सिटी ऑफ विस्कॉन्सिन-मैडिसन और मोरग्रीज इंस्टीट्यूट फॉर रिसर्च के शोधकर्ता दवा को अमल में लाने के लिए यूरिन (मूत्र) में पाए जाने वाले मेटाबोलिक हेल्थ इन्फॉर्मेशन पर काम कर रहे हैं।

एक बयान में बताया गया है कि आयुर्वेदिक फार्मूले से बनी इस आधुनिक दवा के प्रभाव को वैज्ञानिक आकलन के आधार पर प्रमाणित किया जा चुका है। इस बीमारी के गंभीर मरीजों के इलाज में इस दवा को पूरक औषधि के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है।

अदरख को भी जड़ी बूटी के तौर पर देखा जाता है। एक हालिया शोध में यह तथ्य सामने आए हैं कि अदरख के मौखिक सेवन से अस्थमा में काफी आराम मिलता है। इसके साथ ही चाय के साथ इसका सेवन कर इसका सेवन डिटॉक्स ड्रिंक के तौर पर किया जा सकता है।

इलायची-तुलसी का डिटॉक्स वॉटर भी काफी फायदेमंद होता है। इलायची एक अच्छे पाचक की तरह काम करती है और तुलसी शरीर के विषैले तत्वों को बाहर निकालती है।

व्यस्त स्थानों, भीड़भाड़ भरे इलाकों या कन्सट्रक्शन साईट के नजदीक न जाएं। अगर सांस लेने में तकलीफ हो, बहुत ज्यादा खांसी हो तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें।

देवों में भगवान सूर्य देव का प्रसिद्ध मंदिर है। छठ पूजा के दौरान यहां जमकर लोग इकट्ठा होते हैं और तीन दिन तक यहां छठ का त्योहार मनाते हैं। यहां काफी दूर दूर से लोग आते हैं।