लोकसभा

PM Cares Fund: संसद के मानसून सत्र के दौरान लोकसभा (Lok Sabha) में शुक्रवार को उस वक्त हंगामा खड़ा हो गया जब कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury) ने पीएम केयर्स फंड (PM Cares Fund) पर हो रही चर्चा के दौरान केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) पर एक विवादित टिप्पणी कर दी।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लोकसभा के पटल पर बैंक उपभोक्‍ताओं के संरक्षण के लिए बैंकिंग रेग्‍युलेशन एक्‍ट, 1949 में संशोधन के लिए विधेयक (Amendment Bill) रख दिया है।

बता दें कि कोरोना(Corona) की वजह से ऐसा पहली बार हो रहा है कि, जब लोकसभा(Loksabha) के सदस्य राज्यसभा सदन में बैठ रहे हैं, वहीं राज्यसभा(RajyaSabha) के सदस्य लोकसभा में बैठ रहे हैं।

लोकसभा (Lok Sabha) ने सांसदों के वेतन में एक वर्ष के लिए 30 प्रतिशत कटौती करने के प्रावधान वाले एक विधेयक को आज मंजूरी दे दी है। इस धनराशि का उपयोग कोरोना महामारी (Novel Coronavirus) के कारण उत्पन्न स्थिति से मुकाबले के लिए किया जायेगा।

कोविड-19(Covid-19) महामारी के प्रसार को रोकने के लिए इस पहल को अमल में लाया गया। मॉनसून सत्र( Mansoon Session) 1 अक्टूबर तक जारी रहेगा।

लोकसभा सचिवालय ने एक बयान में कहा, "कोविड-19 के कारण महामारी की स्थिति को देखते हुए सदस्यों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सदस्यों के निजी सचिवों का प्रवेश प्रतिबंधित करने की जरूरत है।"

राहुल गांधी ने ट्वीट करके कहा, 'संसद में मैंने एक सीधा सा प्रश्न पूछा था- मुझे देश के 50 सबसे बड़े बैंक चोरों के नाम बताइए। वित्त मंत्री ने जवाब देने से मना कर दिया। अब आरबीआई ने नीरव मोदी, मेहुल चोकसी सहित भाजपा के ‘मित्रों’ के नाम बैंक चोरों की लिस्ट में डाले हैं। इसीलिए संसद में इस सच को छुपाया गया।

जिन पार्टियों के लोकसभा और राज्यसभा में 5 से ज्यादा सांसद हैं, उन दलों के फ्लोर लीडर्स के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आज सुबह 11 बजे बातचीत होगी।

लोकसभा में राहुल गांधी ने बैंक संकट का मुद्दा उठाते हुए सरकार से 50 डिफॉल्टर के नामों की जानकारी मांगी लेकिन लोकसभा के बाहर पत्रकारों के सामने उन्होंने 50 को 500 कर दिया।

राहुल गांधी के इसी बयान पर उनका सोशल मीडिया पर जमकर मजाक उड़ाया जा रहा है। राहुल गांधी को लेकर लोगों का कहना है कि, सदन के भीतर 50 नाम मांगने वाले राहुल गांधी बाहर आते आते 500 पर चले गए।