वकील विवाद

बार काउंसिल ऑफ इंडिया के चेयरमैन मनन मिश्रा ने इस चिट्ठी में लिखा है कि वकीलों ने अपने खिलाफ जांच पूरी होने तक किसी भी तरह के जोर जबरदस्ती के कदम उठाए जाने से रोकने की मांग की थी। इसे मान लिया गया है।