विधानसभा चुनाव

Nitish Kumar:नीतीश कुमार (Nitish Kumar) अकेले मुख्यमंत्री नहीं हैं जिन्होंने विधान परिषद का रास्ता चुना। महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे और उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ भी अपने राज्यों के विधान परिषद के सदस्य हैं। हालांकि अब इस बार अपनी पार्टी को लेकर बिहार में जिस तरह की विपरीत लहर नीतीश कुमार को दिख रही है।

बिहार (Bihar) में इस साल के अंत में होने जा रहे ​विधानसभा चुनाव (Assembly elections) से पहले राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने बड़ी कार्रवाई करते हुए अपने तीन विधायकों को पार्टी से बाहर कर दिया है।

देश में कोरोना का कहर देखने को मिल रहा है। बिहार में कोरोना के मामलों में रोज बढ़ोत्तरी देखने को मिल रही है ऐसे में चुनाव आयोग ने संकेत दिए है कि बिहार में तय समय पर ही विधानसभा चुनाव होंगे।

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने याचिका वापस लेने पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव का आभार जताया है।

आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले क्रिकेटर से राजनेता बने प्रदेश के पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को लुभाने की कोशिश कर रही है।

आगामी  विधानसभा चुनाव के मद्देनजर बिहार भाजपा ने चुनावी बिगूल फूंक दिया है। पार्टी ने दो बड़ी डिजिटल रैली करने की घोषणा की है। पहली वर्चुअल यानी डिजिटल रैली नौ जून को होगी

पिछले साल महाराष्ट्र में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा और शिवसेना वाले गठबंधन को पूर्ण बहुमत मिला था, लेकिन इसके बावजूद भाजपा सरकार नहीं बना सकी थी।

लोजपा ने चुनाव को ध्यान में रखते हुए सात सदस्यों की एक समिति बनाई है जो आगामी विधानसभा चुनाव के लिए विजन डॉक्यूमेंट तैयार करेगी।

आखिरकार कांग्रेस पार्टी ने भी दिल्ली चुनावों में घोषणा पत्र जारी कर दिया है। इस घोषणापत्र में फ्री की भारी सौगात दी गई है।

दिल्ली में शिक्षा व्यवस्था में सुधार का ढींढोरा पीटकर सत्ता हासिल करने का ख्वाब देखनेवाली आम आदमी पार्टी के नेताओं के लिए अब एक बार फिर से मुसीबत खड़ी हो गई है।