वैक्सीन

Uttarakhand gets covishield: अब केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा उत्तराखण्ड(Uttarakhand) को 92500 वैक्सीन और दी गई है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत(Trivendra Singh Rawat) ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डाॅ हर्षवर्धन का आभार व्यक्त किया है।

Corona Vaccine: शनिवार को समाजवादी पार्टी(Samajvadi Party) के मुखिया अखिलेश यादव(Akhilesh Yadav) ने देश में बन रही इन वैक्सीन्स को लगवाने से मना कर दिया था। उनका कहना था कि जब उनकी सरकार आएगी तब वो वैक्सीन लगवाएंगे, उन्हें भाजपा की वैक्सीन पर भरोसा नहीं है।

Oxford Astrazeneca: इन दोनों वैक्सीन(Vaccine) को स्टोर करने के लिए तापमान में भी अंतर है। जहां फाइजर(Pfizer) की वैक्सीन को स्टोर करने के लिए माइनस 70 डिग्री के तापमान की जरूरत होगी वहीं एस्ट्राजेनेका के लिए ऐसा जरूरी नहीं है और सामान्य परिस्थितियों में भी इसे स्टोर किया जा सकता है। 

विश्व में कोरोना का कहर जारी है। इस बीच एक राहत की खबर सामने आ रही है। ऑक्सफोर्ड और एस्ट्राजेनेका (Oxford-AstraZeneca coronavirus vaccine) द्वारा बनाई जा रही वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल को भारत अगले हफ्ते तक मंजूरी दे सकता है।

नई दिल्ली। पूरा विश्व इस समय कोरोना वायरस का कहर झेल रही है। ऐसे में दुनिया में कोरोना मरीजों का...

Uttar Pradesh Corona: पूरे देश की बात करें तो स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय(Health Ministry) ने शनिवार को जानकारी दी कि, भारत में लगातार दूसरे दिन कोरोना वायरस(Corona Virus) के सक्रिय मामले 7 लाख से कम हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री ने कहा, “हमारे वैज्ञानिक इस पर कड़ी मेहनत कर रहे हैं। कोविड-19(Covid-19) के खिलाफ तीन टीकों का परीक्षण विभिन्न चरणों में है। और अगर हम टीका बनाने में सफल होते हैं तो सबसे पहले हमारे कोरोना(Corona) योद्धाओं को इसे लगाया जाएगा।”

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने कोरोना वायरस वैक्सीन के 10 करोड़ खुराक के उत्पादन के लिए बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन और गावी से भी करार किया है।

सीनोवैक बायोटेक कंपनी ने अपने तीसरे चरण के परीक्षण को ब्राजील में संचालन करने के लिए इस महीने बुट्टान इंस्टिट्यूट के साथ साझेदारी का ऐलान किया है।

कोरोना संकट के बीच एक खुशखबरी सामने आ रही है। बता दें कि कोरोना के लिए काल बन कर एक वैक्सीन सामने आ रही है जिसके निर्माण में भारत की ये कंपनी अहम भूमिका निभा रही है।