व्लादिमीर पुतिन

पिछले कुछ दिनों से चीन लगातार पड़ोसी देशों के साथ सीमा विवाद पैदा कर रहा है। चीन ने वही रूस के साथ किया है। रूस के शहर पर चीन ने अपना दावा ठोका है।

भारत-चीन सीमा विवाद पर रूस ने बयान दिया है। भारत-चीन सैनिकों के बीच गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के बाद अब रूस ने कहा है कि चीन और भारत दोनों ही उसके दोस्त है और दोनों समझदार हैं।

पुतिन ने बैठक में सरकार को 12 मई से महामारी की रोकथाम से संबंधित प्रतिबंधों के क्रमबद्ध रूप से उठाने की योजना पर काम करने तथा 5 मई तक इसे तैयार करने का आदेश दिया।

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने 19 मार्च की रात रूसी राष्ट्रपति वलादिमीर पुतिन के साथ फोन बातचीत की। इस मौके पर शी जिनपिंग ने कहा कि इस बार नोवल कोरोनावायरस निमोनिया का कहर आया है, और चीन को मुसीबतों का मुकाबला करना पड़ा है। क्योंकि यह न केवल चीनी जनता की जीवन सुरक्षा और शारीरिक स्वास्थ्य से संबंधित है, बल्कि विश्व की सार्वजनिक स्वास्थ्य व सुरक्षा के लिए भी अति महत्वपूर्ण है।

तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैईप एर्दोगन ने अपने रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन से इदलिब में तुर्की सैनिकों पर सीरियाई हमले के एक दिन बाद फोन पर बात की।

पिछले महीने बिश्केक में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के राष्ट्राध्याक्षों के परिषद (सीएचएस) के 19वें सम्मेलन से इतर दोनों नेताओं के बीच मुलाकात के दौरान रूस के राष्ट्रपति द्वारा दिए गए आमंत्रण को खान ने स्वीकार कर लिया है।

रूस ने शुक्रवार को हाइड्रोमाटेरोलॉजिकल उपग्रह और 32 छोटे उपग्रहों के साथ अपने सोयुज-2.1ए वाहक रॉकेट को सफलतापूर्वक लॉन्च किया।

गोखले ने बताया कि मोदी ने कहा कि उन्होंने आतंकवाद का मुकाबला करने के मद्देनजर विचार-विमर्श करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन करने की मांग की है और वह आश्वस्त हैं कि चीन और रूस इस पहल का समर्थन करेंगे। 

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा है कि रूस किसी भी ऐसे नए ब्रिटिश प्रधानमंत्री के साथ काम करने के लिए तैयार है जो उसके साथ सहयोग करने का इच्छुक हो।

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अन्य ताकतवर नेताओं जैसे व्लादिमीर पुतिन, डोनाल्ड ट्रंप और शी जिनपिंग को मात देकर दुनिया के सबसे ताकतवर नेता बन गए हैं।