शरजील इमाम

शरजील को इस मामले से जुड़े होने को लेकर सोमवार को गिरफ्तार किया गया और एक दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। उसकी रिमांड अवधि खत्म होने के बाद उसे मंगलवार को अदालत में पेश किया गया। दिल्ली पुलिस ने मामले में दायर आरोप-पत्र में उसे लोगों को उकसाने के लिए नामजद किया है।

जेएनयू में ‘इंडिया माई वैलेंटाइन’ प्रोग्राम का आयोजन किया गया था। इसी दौरान ये सब हरकतें की गयी, इस कार्यक्रम का आयोजन बॉलीवुड अभिनेत्री स्वरा भास्कर और उनके कुछ साथियों ने मिलकर किया था।

सूत्रों के मुताबिक दिल्ली पुलिस को शरजील इमाम के बैंक खाते में विदेशी फंडिंग के सबूत मिले हैं। इसके तार शाहीन बाग में हो रहे विरोध प्रदर्शन से भी जुड़े हैं।

देशद्रोह के मामले में गिरफ्तार जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) स्टूडेंट शरजील इमाम को लेकर एक और बड़ा खुलासा हुआ है। सूत्रों के मुताबिक दिल्ली पुलिस को शरजील इमाम के बैंक खाते में विदेशी फंडिंग के सबूत मिले हैं।

मुंबई पुलिस ने शरजील इमाम के समर्थन में नारे लगाने वाली एक महिला पर केस दर्ज किया है। इस महिला का नाम उर्वशी चूडावाला है।

जानकारी यह भी मिली है कि शरजील इमाम देश छोड़कर भागने की तैयारी में था। पुलिस का शिकंजा कसने के बाद वह बिहार में अपने घर के पास स्थित एक इमामबाड़े में जाकर छिप गया था। उसे कई राज्यों की पुलिस देश के अलग-अलग हिस्सों में तलाश रही थी। सुराग मिलते ही दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की एक टीम ने उसे उसके घर के पास वाले इमामबाड़े से दबोच लिया।

इस वीडियो में कुछ लोग, "शरजील तेरे सपने को हम मंजिल तक पहुंचाएंगे" जैसे नारे लगा रहे हैं। मुंबई पुलिस इस वीडियो कंटेंट की जांच कर रही है। वीडियो आजाद मैदान मुंबई में हुए विरोध प्रदर्शन का बताया जा रहा है। 

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच टीम से पूछताछ में शरजील इमाम ने स्वीकार किया कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में भड़काऊ भाषण देने का वीडियो उसका ही है। साथ ही शरजील ने ये भी बताया कि वायरल वीडियो में कोई छेड़छाड़ नहीं हुई है।

जहानाबाद कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को उसकी सुरक्षा पर ध्यान देने का निर्देश दिया। सुरक्षा के लिहाज से शरजील को पटना के गर्दनीबाग स्थित महिला थाना परिसर में एक कमरे में रखा गया। उसकी निगरानी में दिल्ली पुलिस के दो अधिकारी के अलावा बिहार पुलिस के कमांडो भी थे।

शरजील के ऊपर जो धाराएं लगी हैं, उसमें आईपीसी की 124 ए, 153 ए और 505 ए धारा शामिल हैं। शरजील पर इन्हीं धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है।