शरीर

दिल्ली, हरियाणा और पंजाब में भी मौसम शुष्क बना हुआ है। ऐसे में गर्मी से संबंधित समस्याएं शरीर को घेर लेती हैं। जैसे हीट-स्ट्रोक, शरीर में थकावट, डिहाइड्रेशन आदि।

दिनभर की थकान को आराम से सोकर पूरा किया जा सकता है। स्वस्थ शरीर के लिए 7-8 घंटों की नींद लेना जरूरी होता है।

 कई लोगों को बिस्तर पर जाने के बाद भी नींद नहीं आती है और वो देर तक करवट ही बदलते रह जाते हैं। ऐसे में बेहतर है कि जब आपके साथ ऐसा हो तब आप कोई किताब पढ़ें। इसके थोड़ी देर बाद ही आप नींद के आगोश में चले जाएंगे।

पास्चुरीकृत बैक्टीरिया ने प्रतिभागियों में डायबिटीज 2 और दिल की बीमारियों के खतरे को काफी हद तक कम कर दिया।इससे लिवर के स्वास्थ्य में भी सुधार देखा गया, प्रतिभागियों के शारीरिक वजन में भी गिरावट (सामान्यतौर पर 2.3 किलो) देखी गई और इनके साथ ही साथ कोलेस्ट्रोल के स्तर में भी कमी आई।

गंभीर गर्मी के संपर्क में आने से शरीर में ऐंठन, थकावट और हीट-स्ट्रोक सहित कई स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं, इसलिए खूब पानी पिएं, ताकि शरीर 'हाइड्रेटेड' रहे।

सबसे पहले आपका यह जानना बहुत जरुरी है की पाचनतंत्र आखिर होता क्या है। पाचन तंत्र वह क्रिया है जब हम कुछ भी खाना खाते हैं उसे सही रूप से हमारे शरीर में पहुंचाने का काम पाचन तंत्र करता है।

शरीर से विषैले पदार्थ निकालने में लिवर की अहम भूमिका होती है। खराब खान-पान, एल्कोहल सेवन, स्मोकिंग और अनियमित जीवनशैली की वजह से शरीर में विषैले पदार्थ जमा हो जाते हैं।  ये विषैले पदार्थ शरीर के अंगों को नुकसान पहुंचाते हैं और अंगों के सुचारू रूप से कार्य करने में बाधा पहुंचाते हैं। दवाइयों से बेहतर है कि आप प्राकृतिक तरीकों से शरीर के विषैले पदार्थ बाहर निकाल लें।

नई दिल्ली। आज के भागदौड़ भरी जिंदगी में हर कोई व्यस्त है। हर कोई कंप्यूटर पर काम कर काफी परेशानियों का...