शिवसेना

वीर सावरकर को लेकर कांग्रेस और शिवसेना के बीच एक बार फिर तकरार बढ़ सकती है। शिवसेना सांसद संजय राउत ने सावरकर के मामले को लेकर कांग्रेस पर सीधा हमला बोला है।

संजय राउत ने कहा कि मैं इंदिरा, नेहरू और गांधी परिवार का हमेशा सम्मान करते हुए आया हूं। जब मैं विपक्ष में था तो उस वक्त भी मैं इंदिरा जी का सम्मान करता था। जब-जब इंदिरा गांधी पर हमला हुआ तो मैंने उनका बचाव किया था।

महाराष्ट्र में शिवसेना शिवाजी के नाम पर फंस गई है। शिवसेना सांसद संजय राउत ने छत्रपति शिवाजी के वंशज उदयनराजे भोंसले को चुनौती दी थी। उन्होंने चुनौती दी थी कि वह साबित करें कि वह कि शिवाजी के वंशज हैं।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) हिंसा को लेकर बेतुका बयान दिया है। उद्धव ठाकरे ने जेएनयू हिंसा की तुलना 26/11 मुंबई हमले से कर डाली है।

महाराष्ट्र में शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन की सरकार गठन के बाद विभागों के बंटवारे में एक महीने के लगभग का समय लग गया।

उन्होंने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को अपना इस्तीफा भेज दिया है। बताया जा रहा है कि कैबिनेट मंत्री पद नहीं मिलने के कारण अब्दुल सत्तार नाराज चल रहे थे।

वैसे तो वीर सावरकर को शिवसेना अपना आदर्श बताती है लेकिन जब उनके पोते रंजीत सावरकर ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मिलने पहुंचे तो वो उनसे नहीं मिले।

महाराष्ट्र में सोमवार को उद्धव सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार हुआ। कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना के खाते से कुल 36 नेताओं ने मंत्री पद की शपथ ली। अजित पवार एक बार फिर राज्य के उपमुख्यमंत्री बने हैं, महीने में दूसरी बार उन्होंने डिप्टी सीएम पद की शपथ ली।

महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे के मंत्रिमंडल विस्तार से पहले घमासान छिड़ गया है। तीनों ही पार्टियां अपने हिस्से के अधिक मंत्री पद के लिए खींचतान कर रही हैं। इस बीच तीनों ही पार्टियों की संभावित लिस्ट सामने आ गई है।खास बात यह है कि शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे कैबिनेट मंत्री बनेंगे।

महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में महा अघाड़ी सरकार के गठन के करीब एक महीने के बाद आज पहला कैबिनेट विस्तार होगा। महाराष्ट्र में कुल 36 मंत्री शपथ लेने वाले हैं। इनमें 25 कैबिनेट मंत्री होंगे, जबकि 10 राज्य मंत्री होंगे।