सचिन तेंदुलकर

भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने सोमवार को शादी की अपनी 25वीं सालगिरह बेहद खास तरीके से मनाया। क्रिकेट के भगवान ने इस दौरान अपने पूरे परिवार के लिए मैंगो कुल्फी भी बनाई।

मांजरेकर ने कहा, "दुर्भाग्यवश, 96/97 तक टीम सचिन पर काफी हद तक निर्भर हो गई थी क्योंकि वह बेहद निरंतरता के साथ खेल रहे थे और वो भारत के पहले ऐसे खिलाड़ी थे जो हावी होते और अच्छी गेंदों पर भी रन बनाते थे।"

पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज ने कहा, " लेकिन मुझे व्यक्तिगत तौर पर लगता है कि जब रनों के लक्ष्य का पीछा करने की बात आती है तो कोहली सबसे अच्छे हैं। सचिन सभी परिस्थितियों में अद्भुत थे, लेकिन दबाव में लक्ष्य का पीछा करने के मामले में कोहली ने खुद को सबसे ऊपर रखा है।"

दिग्गज भारतीय बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने कोरोनावायरस महामारी के दौरान आर्थिक रूप से कमजोर करीब 4000 लोगों की सहायता के लिए दान दिया है। इनमें बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के बच्चे भी शामिल हैं।

सचिन ने स्काई स्पोटर्स पर 'सचिन मीट्स नासिर' एपिसोड में कहा, " मैं अनभिज्ञ था और मुझे यह मानना पड़ेगा। मैंने पहला टेस्ट मैच ऐसे खेला, जैसे कि मानो मैं स्कूल मैच खेल रहा था।"

उन्होंने कहा, " मेरा मानना है कि अगर वह इसी तरह से मानसिक रूप से फिट रहते हैं तो मुझे लगता है कि उनमें ये तीनों गुण है, जिसके माध्यम से वह सचिन से आगे निकल सकते हैं।"

सचिन तेंदुलकर ने ट्वीट करते हुए लिखा, "दिन की शुरुआत अपनी मां से आशीर्वाद लेकर की। गणपती बप्पा की एक फोटो उन्होंने मुझे दी थी वो मैं शेयर कर रहा हूं। यह अनमोल है।"

सचिन को क्रिकेट का भगवान कहा जाता है। उन्होंने अपने करियर में वनडे में 15,921 और टेस्ट में 18,426 रन बनाए हैं। सभी प्रारूपों को मिलाकर सचिन के नाम 100 अंतर्राष्ट्रीय शतक हैं।

सचिन ने आईएएनएस से बात करते हुए अपने प्रशंसकों को मौजूदा कठिन स्थिति को देखते हुए संदेश दिया कि वह इस समय अपने परिवार के साथ कैसे समय बिता रहे हैं और सबसे अहम कि वो आईपीएल तथा इसी साल आस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 विश्व कप को लेकर क्या सोचते हैं।

दिग्गज भारतीय बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने कहा है कि 2011 विश्व कप के फाइनल में उन्होंने ने ही तत्कालीन कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को एक स्थान ऊपर पांचवें नंबर पर आकर बल्लेबाजी करने के लिए कहा था ताकि गौतम गंभीर के साथ लेफ्ट-राइट का कॉम्बिनेशन कारगर हो सके।