सपा

कन्नौज के छिबरामऊ में बस हादसे में घायल यात्रियों का हालचाल लेने सौ शय्या अस्पताल पहुंचे पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने किसी बात से नाराज होकर वरिष्ठ परामर्शदाता डॉ. डीएस मिश्रा को कमरे से भगा दिया।

समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रविवार को कहा कि वह राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) के लिए फार्म नहीं भरेंगे।

सूत्र बताते हैं कि संगठन के जिम्मेदार पदों पर बैठे पदाधिकारियों को पूरा समय संगठनात्मक गतिविधियों में देना होगा, ताकि सत्ताधारी दल से मजबूती से निपटा जा सके। संगठन और जनप्रतिनिधियों को एक-दूसरे का पूरक बनाने की रणनीति पर सपा अपना संगठन खड़ा करने का प्रयास कर रही है।

सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव का आज 81वां जन्मदिन है। मगर उनका यह जन्मदिन बेटे और भाई की खींचतान में फंस गया है। इस खास मौके पर अखिलेश यादव व शिवपाल सिंह यादव अपने-अपने तरीके से उनका जन्मदिन मना रहे हैं।

मुलायम के जन्मदिन पर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) और समाजवादी पार्टी (सपा) दोनों अलग-अलग आयोजन करेंगी। प्रसपा कार्यकर्ता जन्मदिन को एकता दिवस के तौर पर मनाएंगे और सैफई में विराट दंगल होगा।

पार्टी का एक धड़ा चुनाव लड़ने की सलाह दे रहा है तो दूसरा धड़ा इस चुनाव से तौबा कर सीधे वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में तैयारी के साथ आने की बात कर रहा है। इस पर निर्णय मायावती को लेना है, मगर वह अभी इस मामले पर चुप हैं।

दिसंबर, 1992 में विवादित ढांचा विध्वंस करने के बाद से मुसलमानों के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अछूत हो गई थी। समाजवादी पार्टी (सपा), कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने इसका भरपूर लाभ उठाया, लेकिन सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद मुस्लिमों ने फैसले को कुबूल कर लिया, दोनों ने गलबहियां भी कीं। इससे विपक्ष के सामने बड़ी चुनौती खड़ी हो गई है।

यूपी में 11 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में बहुजन समाज पार्टी ने समाजवादी पार्टी से अलग होकर ताल ठोका था, लेकिन हालत ये हुई कि 6 सीटों पर बसपा की जमानत जब्त हो गई।

उत्तर प्रदेश में 11 सीटों पर हुए उपचुनाव के परिणाम घोषित हो गए हैं। इसमें भाजपा ने 8 और सपा ने 3 सीटों पर जीत दर्ज की है। समाजवादी पार्टी ने रामपुर के अलावा जलालपुर और जैदपुर पर सीट जीतकर अपने विधायकों की संख्या में इजाफा किया है

अखिलेश ने यहां पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा, "प्रदेश में धड़ाधड़ फर्जी एनकाउंटर हो रहे हैं। लोगों को न्याय नहीं मिल पा रहा है। यह सरकार रामराज्य की बात करती है, जबकि यहां रामराज्य नहीं, नाथूराम गोडसे वाला राज्य चल रहा है।"