सर्जिकल स्ट्राइक

Surgical Strike: इमरान खान(Imran Khan) ने भारत(Bharat) पर आरोप लगाते हुए कहा है कि भारत की मोदी सरकार(Modi Government) कोरोना, महंगाई और बेरोजगार जैसे मुद्दों पर असफल है और इसे छिपाने के लिए पाकिस्तान पर हमला कर सकती है।

Surgical Strike: पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान (Pakistan) को एक बार फिर भारत की सर्जिकल स्‍ट्राइक (Surgical Strike) का डर सताने लगा है। इस बार डर इतना है कि उसने अपनी सेना को हाई अलर्ट पर भी रखा दिया है।

Pulwama Attack: पाकिस्तान (Pakistan) के खिलाफ उरी हमले के बाद भारत ने सर्जिकल स्ट्राइक (Surgical Strike) और पुलवामा आतंकी हमले (Pulwama Attack) के बाद एयर स्ट्राइक कर उसके अंदर कितना खौफ भर दिया है यह वहां के सांसदों के संसद में दिए गए बयान से स्पष्ट हो गया है।

आज से ठीक तीन साल पहले आज ही के दिन 18 सितंबर को उरी हमला हुआ था। सुबह साढ़े पांच बजे जैश-ए-मोहम्मद के चार आतंकवादियों ने जम्मू कश्मीर के उरी में स्थित भारतीय सेना के ब्रिगेड हेडक्वार्टर पर हमला कर दिया था।

एक ऐसा ही वीडियो सोशल मीडिया पर काफी ज्यादा वायरल हो रहा है जिसमें देखा जा सकता है कि, कैसे लोग सेना के जवानों का तालियां बजाकर हौसलाफजाई कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहले कार्यकाल में भ्रष्टाचार पर प्रहार का वादा करते हुए कहा था कि 'ना खाऊंगा, ना खाने दूंगा'। इस वादे पर आगे बढ़ते हुए अपने दूसरे कार्यकाल में मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार पर सर्जिकल स्ट्राइक की है। जिसके तहत केंद्र सरकार ने सोमवार को 12 वरिष्ठ अफसरों को जबरन रिटायरमेंट दे दिया।

उन्‍होंने इस बात की पुष्टि की है कि साल 2016 में इंडियन आर्मी ने पहली सर्जिकल स्‍ट्राइक की थी। जनरल सिंह का बयान इसलिए अहम हो जाता है क्‍योंकि साल 2016 में जब इंडियन आर्मी ने पीओके में सर्जिकल स्‍ट्राइक की थी तो उस समय जनरल सिंह ही डायरेक्‍टर जनरल ऑफ मिलिट्री ऑपरेशंस (डीजीएमओ) थे।

2019 लोकसभा चुनाव में सर्जिकल स्ट्राइक बड़ा मुद्दा बन गया है। कांग्रेस लगातार दावे कर रही है कि उनके टाइम में कई बार सर्जिकल स्ट्राइक की गई, लेकिन उन्होंने कभी इसका क्रेडिट नहीं लिया। हालांकि इस दावे के उलट रक्षा मंत्रालय का कहना है कि 2016 से पहले भारतीय सेना की ओर से ऐसे किसी स्ट्राइक की सूचना उसके पास नहीं है। रक्षा मंत्रालय का यह बयान आरटीआई के तहत पूछे गए एक सवाल के जवाब में आया।

लोकसभा चुनाव की रैलियों में भाजपा ने उरी और पुलवामा अटैक के बाद सीमा पार हुई सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक को भुनाना शुरू किया तो आनन-फानन में कांग्रेस भी अपनी सरकार के समय में सेना द्वारा सीमा पार सर्जिकल स्ट्राइक का हिसाब-किताब लेकर सामने आ गई।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बीजेपी और पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा। कपिल ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक पहले भी होते थे, लेकिन कांग्रेस ने कभी इस बात का बखान नहीं किया है। कपिल सिब्बल ने एक कहा है कि हमारे पीएम को देखिए, हमारे जवान मर रहे हैं लेकिन पीएम बखान कर रहे हैं।