सीरिया

उत्तरी सीरिया में कुर्दिश सेना और तुर्की समर्थित विद्रोहियों के बीच हिंसा में 30 लोगों की मौत हो गई। एक वार मॉनीटर (युद्ध पर नजर रखने वाला) ने यह जानकारी दी।

दुनिया के सबसे खौफनाक आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट का सरगना अबु बकर अल बगदादी अमेरिकी सुरक्षाकर्मियों के ऑपरेशन में मारा गया था। खुद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस बात का ऐलान मीडिया के सामने आकर किया था।

तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन ने सीरियाई कुर्द लड़ाकों के साथ संघर्ष विराम के लिए अपने अमेरिकी समकक्ष डोनाल्ड ट्रंप की पेशकश को ठुकरा दिया है, लेकिन वॉशिंगटन के साथ बातचीत जारी रखने को लेकर सहमति जताई है। 

समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, एक शीर्ष अधिकारी ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर मंगलवार को पत्रकारों के एक छोटे से समूह को बताया, "यह दौरा अगले 24 घंटों में होगा, मैं बस आपको इतना ही बता सकता हूं कि यह जल्द होगा।"

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, विदेश विभाग द्वारा मंगलवार को जारी बयान में कहा गया कि दोनों नेताओं ने तुर्की के सैन्य अभियान पर चिंता व्यक्त की और कहा कि अंकारा को इसे तुरंत रोकने की जरूरत है।

बीबीसी की गुरुवार की रिपोर्ट के अनुसार, पोम्पियो ने सीमावर्ती क्षेत्र से अमेरिकी सैनिकों को वापस बुलाने के अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के फैसले का भी बचाव किया। सैनिकों की वापसी के फैसले पर अमेरिका तथा दुनियाभर में प्रतिक्रियाएं आ रही हैं।

तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन ने रविवार को धमकी दी कि वह कुर्दिश लड़ाकों को हटाने के लिए उत्तरी सीरिया में एक अभियान शुरू करेंगे, जो सीरिया की सीमा के पास महीनों से तुर्की की सेना की तैनाती के बाद से भी इलाके को नियंत्रित कर रहे है।

सीरियाई सेना ने कहा कि शुक्रवार को दक्षिणी प्रांत क्यूनेत्रा की दिशा से दुश्मनों के हमलों के जवाब में वायु सेना ने यह कार्रवाई की। इस बीच शाम को राजधानी की जनता ने धमाकों की प्रतिध्वनियां सुनीं।

संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक, पिछले साल दुनिया के 53 देशों में 11.3 करोड़ से अधिक लोग युद्ध और जलवायु आपदाओं के चलते आहार की कमी के शिकार हुए और सबसे अधिक प्रभावित अफ्रीका रहा। खाद्य एवं कृषि संगठन (एफएओ) ने खाद्य संकट पर 2019 की अपनी रिपोर्ट में बताया है कि यमन, कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य, अफगानिस्तान और सीरिया उन आठ देशों में शामिल हैं जहां दुर्भिक्ष के शिकार लोगों का दो तिहाई हिस्सा है।

सीरिया में 2018 में कम से कम 1,106 बच्चों की मौत हुई। सीरिया में युद्ध की शुरुआत के बाद से बीते आठ सालों में 2018 में सबसे ज्यादा बच्चों की मौत हुई।