सुखोई

राफेल या सुखोई सहित लड़ाकू विमान (Fighter Aircraft) जल्द ही उत्तर प्रदेश में 340 किलोमीटर लंबे पूर्वांचल मार्ग पर विकसित की जा रही हवाई पट्टी से उतरने और उड़ान भरने में सक्षम होंगे। 

लद्दाख (Laddakh) में भारतीय सेना (Indian Army) अब और भी सतर्क हो गई है। भारतीय सेना ने चीन (China) को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए सैन्य ताकत और बढ़ा दी है।

राफेल विमान भारतीय वायुसेना के भविष्य का गौरव साबित होने जा रहे हैं। ये विमान पाकिस्तान के होश उड़ा देंगे। ये किसी नेता या ब्यूरोक्रेट का बयान नही है बल्कि एयरफोर्स के एयर वाइस मार्शल का एलान है।

ट्रांसपोर्टर विमान सोमवार को जोरहाट से दोपहर 12.27 बजे मेचुका एडवांस्ड लैंडिंग ग्राउंड के लिए रवाना हुआ। विमान में वायुसेना के कर्मी सवार थे और उसने आखिरी बार करीब दोपहर एक बजे ग्राउंड एजेंसियों से संपर्क किया था। इसके बाद, विमान के साथ कोई संपर्क नहीं हो पाया। 

इंडियन एयर फोर्स ने बॉर्डर पर एक बार फिर से बड़ी पाकिस्तानी साजिश को नाकाम कर दिया है। पाकिस्तान ने रविवार देर रात भारतीय सीमा की ओर F-16 लड़ाकू विमानों का एक बेड़ा पंजाब बॉर्डर पर टोह लेने के लिए भेजा। अलर्ट एयरफोर्स की टीम ने सुखोई और मिराज की मदद से पाकिस्तान के F-16 को वापस खदेड़ दिया।