सुशील कुमार शिंदे

माजिद मेमन ने कहा कि शरद पवार अपना अस्तित्व बिल्कुल नहीं खोना चाहते हैं। अगर कांग्रेस एनसीपी में अपना विलय करना चाहती है तो कर सकती है।

कांग्रेस इन दिनों भीतरी कलह से जूझ रही है। लोकसभा चुनाव में भारी हार के बाद कांग्रेस के भीतर काफी उथल-पुथल मची हुई है। पहले राहुल गांधी ने अध्यक्ष का पद छोड़ा और उनकी मां सोनिया ने उसे संभाल लिया।

सोनिया गांधी को कांग्रेस नेताओं ने एक बार फिर से पार्टी की बागडोर सौंप दी है। 72 दिन यानी करीब ढाई महीने की उहापोह की स्थिति के बाद सोनिया गांधी को फिर से कांग्रेस का सिरमौर बनाया गया है।

कांग्रेस अध्यक्ष पद पर फैसला के लिए शनिवार को कांग्रेस वर्किंग कमिटी (CWC) की बैठक रात 8 बजे दोबारा होगी। इसमें राहुल गांधी के उत्तराधिकारी पर फैसला लिया जाएगा।

नया कांग्रेस अध्यक्ष चुनने के लिए जोन के हिसाब से पांच नेताओं की टीम बनाई गई है, जिसमें सोनिया गांधी और राहुल गांधी के भी नाम शामिल थे। लेकिन सोनिया ने इस बात पर ऐतराज जताया और खुद को और राहुल को इस कमेटी से अलग कर लिया।

मिलिंद देवड़ा ने आगामी महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के लिए मुंबई कांग्रेस का नेतृत्व करने के लिए तीन सदस्यीय पैनल का भी प्रस्ताव दिया है।

अब पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर बड़ा बयान दिया है। कैप्टन अमरिंदर ने कहा है कि कांग्रेस की कमान किसी युवा नेता को संभालनी चाहिए। 

राहुल गांधी अपनी मां सोनिया की तरह ही "त्याग" की राह पर हैं। उन्होंने बुधवार को अपने इस्तीफे की जो चिट्ठी सार्वजनिक की, वह इसी “मैन्यूफेक्चर्ड” त्याग का सार्वजनिक ऐलान भर थी।

राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद शुरू हुई खींचतान के बाद कांग्रेस मोतीलाल वोरा को पार्टी का अंतरिम अध्यक्ष नियुक्त किया है। जब तक नए सदस्य के नाम पर सहमति नहीं बनती तब तक मोतीलाल वोरा कांग्रेस के अंतरिम अध्यक्ष होंगे।

कांग्रेस अध्यक्ष ढुंढ लिया है और पिछले दिनों से चल रहे अशोक गहलोत की जगह यूपीए सरकार में गृह मंत्रालय का भार संभाल चुके सुशील कुमार शिंदे को कांग्रेस अध्यक्ष बनाया जा सकता है।