AAM aadmi party

अरविंद केजरीवाल ने चुनाव जीतते ही मोदी विरोधी खेमे को बड़ा झटका दिया है। केजरीवाल ने अपने शपथग्रहण में किसी भी मोदी विरोधी नेता को नही बुलाया है।

अरविंद केजरीवाल की नई सरकार में सारे मंत्री रिपीट किए जाएंगे। पहले उम्मीद जताई जा रही थी कि मंत्रिमंडल में बदलाव भी हो सकता है पर अरविंद केजरीवाल का मानना है कि इसी सरकार के काम पर हम दोबारा जीत कर आए हैं।

आप के नवनिर्वाचित विधायकों की औपचारिक बैठक में मनीष सिसोदिया ने अरविंद केजरीवाल के नाम का प्रस्ताव किया, जिसका सभी विधायकों ने सर्वसम्मति से समर्थन किया।

दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों में से 62 सीटों पर जीत दर्ज करने वाली आम आदमी पार्टी (आप) के नवनिर्वाचित विधायकों ने बुधवार को पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल को विधायक दल का नेता चुन लिया।

दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में अरविंद केजरीवाल रविवार को शपथ ले सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक इस बार केजरीवाल 16 फरवरी को तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। पिछली बार की तरह इस बार भी दिल्ली के रामलीला ग्राउंड में ही शपथ ग्रहण समारोह होगा, जहां केजरीवाल के साथ-साथ उनके मंत्री भी शपथ लेंगे।

दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को बड़ी जीत मिली है। इसी बीच महरौली विधायक नरेश यादव के काफिले पर मंगलवार देर रात हमला हुआ, जिसमें एक कार्यकर्ता की मौत हो गई है, जबकि एक शख्स घायल हुआ है।

दिल्ली विधानसभा चुनाव में जीत के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अरविंद केजरीवाल को बधाई दी

दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजों में कांग्रेस को एक बार फिर से करारा झटका लगा। पार्टी एक भी सीट नहीं जीत सकी।

एक यूजर ने लिखा, "आप की जीत पर बधाई। हालांकि, मैं भाजपा को ज्यादा पसंद करता हूं, लेकिन मैं कहना चाहता हूं आप जीतने लायक थी।"

कांग्रेस दिल्ली विधानसभा के चुनाव में बुरी तरह पटखनी खा चुकी है। वह कहीं लड़ाई में नजर नहीं आ रही है। इसके बावजूद कांग्रेस के नेता आम आदमी पार्टी की जीत और बीजेपी की हार से बेहद खुश हैं।