AAP

राजेंद्र पाल ने कहा कि मैंने कोई ट्वीट नहीं किया है, ट्वीट देखकर ऐसा लग रहा है कि किसी ने राजनैतिक द्वेष के चलते, चुनाव के समय हमारी पार्टी को नुकसान पहुंचाने के लिए ऐसी शरारत की है।

पानी के नमूने को एकत्र करने को लेकर बीआईएस के अधिकारियों ने गुरुवार को बीआईएस टीम द्वारा किए गए कॉल डिटेल्स और सुरक्षा प्रविष्टि का दावा किया।

पंजाब से आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान ने पराली जलाने का खुलकर समर्थन किया है, जबकि केजरीवाल दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के लिए पराली को जिम्मेदार मानते हैं।

दिल्ली एनसीआर में लगातार प्रदूषण बढ़ने-घटने के क्रम में चिकित्सकों ने बुधवार को कहा कि देश की राजधानी में त्वचा संबंधी समस्याओं में 30 प्रतिशत तक इजाफा हुआ है।

ट्वीट में यह भी दावा किया गया है कि विकास के बड़े-बड़े दावे करने वाली आम आदमी पार्टी की सरकार लोगों को साफ पानी तक मुहैया कराने में नाकाम रही है।

निबंध में लिखा है कि प्रदूषण दिल्ली का प्रमुख त्योहार है। यह हमेशा दिवाली के बाद शुरू होता है। इसमें हमें दिवाली से भी ज्यादा हॉलीडे मिलते हैं। दीवाली में हमें 4 हॉलीडे मिलते हैं। लेकिन प्रदूषण में हमें 6+2=8 हॉली डे मिलते हैं।

कुछ देर बाद गौतम गंभीर ने ट्वीट कर ट्रोलर्स और आप को जवाब दिया। उन्होंने कहा कि अगर मुझे गाली देने से दिल्ली का प्रदूषण कम होगा तो आप जी भर के गालियां दीजिए।

सुप्रीम कोर्ट में प्रदूषण को लेकर चल रही सुनवाई के दौरान ऑड-इवन को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। केंद्र सरकार की संस्था केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने माना है कि इस स्कीम का प्रदूषण पर कोई असर नहीं हुआ है। 

इस बार दिल्ली वालों ने दिवाली पर पटाखों नहीं फोड़े यह सोचकर कि उनको प्रदूषण से छुटकारा मिलेगा, लेकिन नतीजा वही का वही निकला। पंजाब और हरियाणा में जलाई जा रही पराली ने दिल्ली का हवा को जहरीला बना दिया, जिससे लोगों को सांस लेने में भी परेशानी होने लगी।

उत्तर प्रदेश के वन एवं पर्यावरण मंत्री दारा सिंह चौहान की मानें तो योगी सरकार भी ऐसी ही कुछ तैयारी करने में जुटी हुई है। दारा सिंह चौहान ने बताया है कि यूपी की यातायात पुलिस को इस संबंध में निर्देश दिए जा चुके हैं।