Alia Bhatt

घातक कोरोना वायरस जैसी महामारी से जूझ रहे मरीजों की जिंदगी बचाने के लिए कोरोना वॉरियर्स दिन रात सेवा में लगे हैं। उनके इस जज्बे को देख हर कोई उन्हें सलाम कर रहा है। इसी बीच बॉलीवुड एक्ट्रेस आलिया भट्ट ने अनोखे तरीके से उनका मनोबल बढ़ाया है।

बॉलीवुड एक्ट्रेस आलिया भट्ट वर्सटाइल एक्ट्रेस है, अपनी जबरदस्त एक्टिंग से वो हर रोले में जान दाल देती है। लॉकडाउन के दौरान आलिया सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं। हाल ही में उन्होंने अपने लुक में बदलाव किया है।

अयान मुखर्जी द्वारा निर्देशित इस महत्वाकांक्षी परियोजना में अमिताभ बच्चन, आलिया भट्ट और रणबीर कपूर जैसे मशहूर सितारें हैं। फिल्म में नागार्जुन और मौनी रॉय भी महत्वपूर्ण भूमिकाओं में नजर आएंगे।

बुधवार को अर्थ डे मनाने के लिए बॉलीवुड अभिनेत्री आलिया भट्ट ने सोशल मीडिया पर 'टुडे एंड एवरीडे' नामक एक कविता पोस्ट की। इस कविता में मदर नेचर, साथ ही कोरोना योद्धाओं का आभार व्यक्त किया गया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने लाखों ट्विटर फॉलोअर्स को बॉलीवुड स्टार के वीडियो 'फैमिली' देखने का सुझाव दिया है। इस वीडियो में बॉलीवुड सितारे कोविड-19 लॉकडाउन के दौरान घर पर रहने के पक्ष में प्रचार करते दिख रहे हैं।

लॉकडाउन के बीच बॉलीवुड सेल्फ आइसोलेशन में है। ऐसे में स्टार्स अपनी फैमिली से दूर रह कर उनको याद कर रहे हैं। इसी कड़ी में आलिया भट्ट भी शामिल हैं। हाल ही में आलिया ने एक तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की है, जिसमें वो अपने पापा महेश भट्ट को याद कर रहीं हैं।

बॉलीवुड के लव बर्ड रणबीर कपूर और आलिया भट्ट की एक तस्वीर इन दिनों सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है। जिसमें रणबीर आलिया को किस करते हुए नजर आ रहे हैं।

निर्देशक अनुभव सिन्हा बॉक्स ऑफिस पर अपनी हालिया रिलीज फिल्म 'थप्पड़' के प्रदर्शन से संतुष्ट हैं, बहरहाल फिल्म अपने दूसरे शनिवार तक लगभग 22 करोड़ रुपये ही कमा पाई, लेकिन समीक्षकों द्वारा भी इसे पसंद किया गया और दर्शकों ने भी फिल्म को अच्छी प्रतिक्रियाएं दीं।

जिसका इंतजार इतनी बेसब्री से किया जा रहा था, वो अब खत्म हो गया है। जी हां, हिंदी सिनेमा की सबसे स्टाइलिश डीवाज़ जोड़ी में से एक यानि बॉलीवुड एक्ट्रेस आलिया भट्ट और रणबीर कपूर बहुत जल्द आपको शादी के बंधन में बंधते हुए नजर आएंगे।

संसद हमले को दोषी अफजल गुरु की फांसी के मामले पर एक फिर सवाल उठाये गए हैं। भारत की न्याय प्रक्रिया को एक बार फिर सवालों के घेरे में लाने की कोशिश की गई है।