All Party Meeting

All Party Meeting: एक फरवरी को पेश होने वाले बजट से पहले मोदी सरकार (Modi Govt) सभी दलों से विचार-विमर्श करेगी। केंद्र सरकार ने 30 जनवरी को वीडियो कांफ्रेंसिंग से होने वाली सर्वदलीय बैठक में सभी राजनीतिक दलों के दोनों सदनों के नेताओं को आमंत्रित किया है।

देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) का प्रकोप जारी है। ऐसे में सबकी नजरें कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) टिकी हैं। इन सबके बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) लगातार वैक्सीन को लेकर सतर्क हैं। शुक्रवार को उनकी अध्यक्षता में वर्चुअल माध्यम से सर्वदलीय बैठक (All Party Meeting) चल रही है।

Coronavirus: देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) का प्रकोप लगातार जारी है। ऐसे में सबकी नजरें कोरोना की वैक्सीन (Corona Vaccine) पर टिकी हुई हैं। इतनी ही नहीं केंद्र सरकार कोरोना के खिलाफ जंग में लगातार ठोस कदम भी उठा रही है।

पीएम नरेंद्र मोदी ने चीन की तरफ से वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के अतिक्रमण को लेकर भी स्थिति स्पष्ट की और कहा कि भारत की सीमा में चीन का एक भी सैनिक नहीं है।

इस बैठक में सभी पार्टी के नेताओं ने कहा कि हम सरकार और देश के जांबाजों के साथ मजबूती से खड़े हैं। और हम सरकार के हर कदम का समर्थन करते हैं।

महाराष्ट्र सरकार में शिवसेना के सहयोगी दल एनसीपी ने भी प्रधानमंत्री मोदी के प्रति अपना समर्थन जताया। इसके साथ ही एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने चीन के सामने सैनिकों को निहत्थे भेजे जाने के राहुल गांधी के सवाल पर उन्हें आईना भी दिखाया।

बैठक में बीजेपी से अलग होकर महाराष्ट्र में सरकार बनाने वाले शिवसेना प्रमुख ने मोदी सरकार पर भरोसा जताया और कहा कि हमारी सरकार 'आंखें निकालकर हाथ में देने' की क्षमता रखती है।

पीएम मोदी की अगुवाई में आज चीन और भारत के बीच सीमा पर उपजे हालात को लेकर चर्चा हुई। इस चर्चा में कांग्रेस पार्टी की तरफ से उनकी अंतिरम अध्यक्ष सोनिया गंधी मौजूद थीं।

इसको लेकर प्रधानमंत्री मोदी सर्वदलीय बैठक कर रहे हैं। इसमें विपक्षी दलों के 20 नेता शामिल हैं। जबकि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी चर्चा में हिस्सा ले रहे हैं। 

सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और कई वरिष्ठ विपक्षी नेताओं ने भाग लिया। बैठक में केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत, लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद और राज्यसभा में विपक्ष के उप नेता आनंद शर्मा भी मौजूद थे।