Anna hazare

हजारे ने कहा, "लोगों ने महसूस करना शुरू कर दिया है कि प्रणाली के माध्यम से न्याय पाने में देरी, बाधाएं और कठिनाइयां अपने आप में अन्याय है। हैदराबाद मुठभेड़ के जनसमर्थन का यही कारण है। लोग अब चाहते हैं कि इस तरह के 'मुठभेड़ों' में अपराधियों को खत्म कर दिया जाए।"

सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के साथ करीब छह घंटों तक चली मैराथन बैठक के बाद मंगलवार शाम अपना सात दिनों का लंबा अनशन तोड़ दिया।

सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि मोदी की केंद्र सरकार ने अपने वादे पूरे नहीं किए तो वह अपना पद्म भूषण सम्मान सरकार को लौटा देंगे। 81 वर्षीय अन्ना यहां अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठे हुए हैं।

लोकपाल कानून के मुद्दे पर एक बार फिर सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे आज अनशन पर बैठने जा रहे हैं। वह बुधवार सुबह 10 बजे अपने गांव रालेगण सिद्धि में अनशन पर बैठेंगे। अपने अनशन पर बैठने की जानकारी उन्होंने मीडिया को दी।

नई दिल्ली। सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने लोकपाल नियुक्ति को लेकर सरकार को एक बार फिर अल्टीमेटम दिया है। अन्ना...

नई दिल्ली। सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने रविवार को कहा कि वह केंद्र में लोकपाल की नियुक्ति में विलंब के...

नई दिल्ली। सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे का पिछले 7 दिनों से जारी अनशन बृहस्पतिवार शाम को खत्म हो गया। अन्ना...

नई दिल्ली। करीब सात साल पहले सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने भ्रष्टाचार के मामलों की जांच के लिए लोकपाल के...

पटना। सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने शनिवार को कहा कि गलती करना और माफी मांगना हमारा आदर्श नहीं है। उन्होंने...