asduddin owaisi

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सर संघचालक मोहन भागवत ने जनसंख्या वृद्धि के मुद्दे पर कहा है कि अब देश में दो बच्चों के कानून की जरूरत है।

पिछले दिनों राम मंदिर के मुद्दे पर असदुद्दीन ओवैसी के बयान पर उन्होंने तीखी प्रतिक्रिया दी। अब उन्होंने राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर(एनआरसी) को लेकर नया ट्वीट किया है।

सलमान निजामी ने कहा कि हमें मस्जिद का निर्माण करना चाहिए, एक ऐसा संस्थान भी जहां हिंदू और मुस्लिम दोनों एक साथ अध्ययन कर सकते हैं। किसी कोई भी निराश होने की जरूरत नहीं है। केवल सकारात्मक ऊर्जा और विचारों से ही नफरत से निपटा जा सकता है।

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन(AIMIM) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि, उद्धाव ठाकरे दो घोड़ों की सवारी करना चाहते हैं, वो जनता को मुर्ख ना बनाए।

भाजपा प्रवक्ता शहनवाज हुसैन ने कहा, 'कश्मीर जाना है तो कांग्रेस वाले सुबह की फ्लाइट पकड़कर चले जाएं। गुलमर्ग जाएं, अनंतनाग जाएं, सैर करें, घूमें-टहलें। किसने उन्हें रोका है? अब तो आम पर्यटकों के लिए भी कश्मीर को खोल दिया गया है।'

आरएसएस सरसंघचालक मोहन भागवत पर निशाना साधते हुए ओवैसी ने कहा कि मोहन भागवत भारत को हिंदू राष्ट्र बताकर मेरे इतिहास को मिटा नहीं सकते हैं।

एनआरसी को लेकर इन दिनों पूरे देश में घमासान मचा हुआ है।बीजेपी इसे पूरे देश में लागू करने की बात कर रही है वहीं विपक्षी दल इसके खिलाफ आवाज उठा रहे हैं। पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी ने इसका खुलकर विरोध कर दिया है।

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने ट्रंप को जाहिल बताते हुए कहा कि, ट्रंप को महात्मा गांधी जी के बारे में नहीं पता। गांधी जी को पिता की उपाधि हासिल है।

असम के नागरिकता रजिस्टर यानि एनआरसी में शामिल हुए लोगों के लिए अभी निश्चिंत होने की बात नहीं है। इस बात की आशंका जताई जा रही है कि इस रजिस्टर में अभी भी कई विदेशी घुसपैठिए शामिल हैं।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के हिंदी के पक्ष में बगैर लाग लपेट के दिए गए एक बयान ने दक्षिण भारत में विपक्ष के होश उड़ा दिए हैं। विपक्ष इसके खिलाफ सड़कों पर उतर आया है। तमिलनाडु से लेकर कर्नाटक तक विपक्ष ने सरकार के खिलाफ हल्ला बोल दिया है।