astrology

Navratri 2020: इस साल नवरात्रि (Navratri 2020) 17 अक्टूबर, शनिवार से शुरू हो रहे हैं। ओस दौरान कई लोग माता वैष्णो देवी (Maa Vaishno Devi) के दर्शन के लिए जाते हैं। लेकिन इस बार कोरोना (Corona) के चलते यह संभव नहीं हो पाएगा।

Navratri 2020: कल से नवरात्रि (Navratri 2020) शुरू हो रहे हैं। जिसके लिए तैयारियां काफी तेजी से हो रही है। नवरात्रि में लगातार 9 दिन मां दुर्गा (Ma Durga) की विशेष पूजा की जाएगी। मां को उनका प्रिय प्रसाद (Prasad) चढ़ाया जाता है।

Navratri 2020: इस साल नवरात्रि (Navratri 2020) 17 अक्टूबर से शुरू हो रहे हैं। इस दौरान मां दुर्गा (Ma Durga) के 9 रुपों की पूजा की जाती है। आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से नवरात्रि शुरू होते है।

Navratri 2020: नवरात्रि (Navratri 2020) में नौ दिन मां दुर्गा (Ma Durga) की उपासना की जाती है। इन 9 दिनों में ना केवल भक्त देवी की उपासना में डूब जाता है बल्कि घर का माहौल भी धार्मिक हो जाता है।

Navratri 2020: इस साल नवरात्रि (Navratri 2020) 17 अक्टूबर से शुरू हो रहे हैं। इस दौरान मां दुर्गा (Ma Durga) के 9 रुपों की पूजा की जाती है। साथ ही इस दौरान मां दुर्गा के बीज मंत्रों का जाप (Beej Mantra) करना चाहिए।

Navratri 2020: इस साल 17 अक्टूबर 2020 से शारदीय नवरात्र (Navratri 2020) शुरू हो रहे है। आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से नवरात्रि शुरू होते है। इनमें मां दुर्गा (Goddess Durga) के नौ रूपों की पूजा की जाती है।

Shiva Chalisa Paath: आज सोमवार (Monday) है। ये दिन भगवान शिव (Lord Shiva) को समर्पित होता है। इस दिन शिव चालीसा का पाठ (Shiva Chalisa Paath) करने से भोलेनाथ (Bholenath) प्रसन्न होते हैं।

Suryadev: रविवार के दिन सूर्यदेव (Suryadev) की पूजा (Suryadev ki Pooja) की जाती है। वो नवग्रहों के राजा (King of Navagrahas) हैं। कहा जाता है कि इनकी आराधना करने से व्यक्ति को सुख-समृद्धि और मान-सम्मान की प्राप्ति होती है।

Navratri 2020: इस साल नवरात्रि (Navratri 2020) 17 अक्टूबर से शुरू हो रहे हैं। नवरात्रि में मां दुर्गा (Godess Durga) के 9 रूपों को पूजा जाता है। इस दौरान सात्विक खाना खाया जाता है।

Navratri 2020: इस साल नवरात्रि (Navratri 2020) 17 अक्टूबर से शुरू हो रहे हैं। नवरात्रि में मां दुर्गा (Godess Durga) के 9 रूपों को पूजा जाता है। माना जाता है कि अगर 9 देवियों को उनके प्रिय पुष्प (Favourite Flowers) पूजा के दौरान चढ़ाए जाएं तो मां का आशीर्वाद बना रहता है।