Ayodhya Case

जानकारी के मुताबिक वीएचपी 4 लाख गांव और 10 करोड़ लोगों तक पहुंचने का अभियान बनाया है। उधर, हर घर से राम मंदिर निर्माण के लिए 11-11 रुपये का चंदा इकट्ठा किया जाएगा।

उधर बाबरी मामले में अदालती सुनवाई लगातार जारी है। आज बीजेपी नेता मुरली मनोहर जोशी के बयान दर्ज हो रहे हैं। कल पूर्व प्रधानमंत्री लाल कृष्ण आडवाणी के बयान दर्ज होंगे। इस बीच भूमि पूजन को लेकर भी नई मांग उठा दी गई है।

सुन्नी वक्फ बोर्ड आम लोगों की राय के साथ चलना चाहता है। शीर्ष अदालत के फैसले के बाद सुन्नी वक्फ बोर्ड को कई लोगों ने मस्जिद के साथ ही अस्पताल व किसी बड़े शैक्षणिक संस्थान का निर्माण कराने की राय भी दी थी।

सुन्नी वक्फ बोर्ड ने वकील राजीव धवन को अयोध्या केस से हटाया

भाजपा के दो मुख्य एजेंडे, जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाने और राम मंदिर फैसले के बाद सुरक्षा व शांति व्यवस्था कायम रखने के पीछे राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल और उनकी एडवायजरी काउंसिल का अहम रोल रहा।

देश के सबसे चर्चित मामलों में से एक अयोध्या भूमि विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ हो गया है। इसके अलावा कोर्ट ने मुस्लिम पक्ष को मस्जिद के लिए अयोध्या मंज ही 5 एकड़ जमीन देने का फैसला सुनाया।

अयोध्या रामजन्मभूमि मामले पर सर्वोच्च न्यायालय के आए फैसले के बाद पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह द्वारा बाबरी मस्जिद ढांचा गिराए जाने वालों को सजा देने का सवाल उठाने पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तंज कसते हुए कहा कि, विकृत मानसिकता को जवाब समाज स्वयं देगा।

अयोध्या पुलिस के मुताबिक कई सोशल मीडिया सेल जनपद अयोध्या में कई व्हाट्सएप ग्रुपों में इस प्रकार के भ्रामक मैसेज का प्रसार किया जा रहे हैं जिसका अयोध्या पुलिस पूर्णतया खंडन करती है।

सुप्रीम कोर्ट ने यूपी के मुख्य सचिव और डीजीपी को बुलाकर यूपी की कानून व्यवस्था के बारे में जरूरी जानकारियां ली। देश की सर्वोच्च अदालत ने यह कदम अयोध्या फैसले के मद्देनजर उठाया। अदालत ने फैसले की सूरत में इन अधिकारियों से राज्य की सुरक्षा व्यवस्था के एक-एक पहलू की जानकारी ली।

सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई के 17 नवंबर को सेवानिवृत्त होने से पहले अयोध्या मामले के संभावित फैसले के मद्देनजर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों को सतर्क रहने की हिदायत दी है।