ayodhya

रामलला का सिंहासन भी तैयार हो चुका है। इस सिंहासन की पहली तस्वीर सामने आ चुकी है। इस अस्थाई मंदिर में स्थापना की खातिर तीन दिवसीय अनुष्ठान शुरू हो रहा है, जिसमें 15 आचार्य हिस्सा लेंगे। अस्थायी मंदिर का निर्माण कार्य पूरा कर लिया गया है।

अयोध्या में रामजन्मभूमि पर मंदिर निर्माण की प्रक्रिया में होली के बाद तेजी देखने को मिलेगी। मंदिर निर्माण के लिए बने ट्रस्ट का काम-काज प्रभावित न हो इसके लिए अधिग्रहीत परिसर से लगे रामकचहरी मंदिर के एक प्रखंड में कार्यालय खोला जा रहा है, जिसे होली बाद किसी भी दिन शुभ मुहुर्त देखकर संचालित किया जाएगा।

चंपत राय ने बताया कि रामलला के लिए फाइबर का मंदिर दिल्ली में तैयार हो रहा है। चंपत राय के मुताबिक, ट्रस्ट की दूसरी बैठक रामनवमी के बाद चार अप्रैल को अयोध्या में ही होगी।

उद्धव ठाकरे ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से अपील की, "मैं महाराष्ट्र सरकार की तरफ से विनती करता हूं कि अयोध्या में महाराष्ट्र भवन के निर्माण के लिए हमें यहां जमीन का एक टुकड़ा प्रदान करें, ताकि मराठी लोग जब यहां आएं तो उन्हें रहने की परेशानी न हो।"

शिवसेना प्रवक्ता व सांसद संजय राउत, मुख्यमंत्री के आगमन कार्यक्रम को लेकर अयोध्या में पहले से हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान के बाद भीड़भाड़ वाले कार्यक्रमों को रद्द किया गया है। मुख्यमंत्री योगी ने भी भीड़भाड़ वाले कार्यक्रमों से बचने की अपील की थी।

अयोध्या विवाद में अब आतंकी गतिविधियों के आरोपी पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया ने भी एंट्री ले ली है। पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया उर्फ पीएफआई ने अयोध्या मामले में आज क्यूरेटिव याचिका दाखिल की है।

रामलला के लिए स्थायी मंदिर निर्माण हेतु एक बड़ा कदम उठाया गया है। इसके तहत गुरुवार को 'श्री राम जन्मभूमि क्षेत्र ट्रस्ट' के नाम से भारतीय स्टेट बैंक के अयोध्या ब्रांच में करेंट अकाउंट खोला गया।

रामजन्मभूमि न्यास के कार्यकारी अध्यक्ष और पूर्व सांसद रामविलास वेदांती ने राम मंदिर को लेकर एक बेहद दिलचस्प बात कह दी है।

बैठक में मंदिर के मॉडल, डिजाइन, निर्माण की अवधि, लागत आदि के बारे में भी विस्तृत चर्चा होने की संभावना है। गौरतलब है कि शुक्रवार को नृपेन्द्र मिश्रा ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से लखनऊ में मुलाकात की थी।

उत्तर प्रदेश के मुख्ययमंत्री योगी आदित्यानाथ रविवार को अयोध्या पहुंचे। वे राम मंदिर के पक्ष में फैसला आने के बाद पहली बार अयोध्या पहुंचे। उन्होंने अयोध्या में विकास की स्थितियों की समीक्षा की। योगी ने अयोध्या में मुख्यमंत्री आरोग्य मेला का उद्घाटन भी किया।