Bangladesh

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने गुरुवार को कहा कि यह मैच भारत के लिए खास होता और इसी कारण इसके लिए खास लोगों को कोलकाता बुलाने का प्रयास किया जा रहा है। इनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सचिन तेंदुलकर जैसी हस्तियां शामिल हैं।

नई दिल्ली।  अगले साल यानि 2020 में ऑस्ट्रेलिया में होने जा रहा है आइसीसी टी20 वर्ल्ड कप। बता दें, इस...

जानकारी छिपाने के कारण ही अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने मंगलवार को एक बड़ा फैसला लेते हुए शाकिब पर दो साल का प्रतिबंध लगाया।शाकिब ने भ्रष्टाचार-रोधी संहिता के उल्लंघन के तीन आरोपों को स्वीकार किया।

पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीवीएस लक्ष्मण का मानना है कि भारतीय टीम को बांग्लादेश के खिलाफ होने वाली टी-20 सीरीज में मेहमान टीम से कड़ी टक्कर मिलेगी। भारत ने मंगलवार को तीसरे और अंतिम टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका को पारी और 202 रन से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 3-0 से क्लीन स्वीप कर लिया।

बांग्लादेशी क्रिकेटर सोमवार को हड़ताल पर चले गए। उन्होंने कहा है कि जब तक उनकी मांगे पूरी नहीं हो जाती, तब वह किसी भी तरह की क्रिकेट गतिविधि में हिस्सा नहीं लेंगे। इससे बांग्लादेश क्रिकेट टीम के भारत दौरे पर सवाल खड़ा हो गया है, हालांकि यह कहना अभी जल्दबाजी होगा कि टीम का भारत दौरा खतरे में है।

कोहली की कप्तानी वाली टीम के लिए वर्कलोड मैनेजमेंट प्राथमिकता रही है। कई सीनियर खिलाड़ी बीच में आराम करते रहे हैं लेकिन कोहली ने इससे पहले सिर्फ जनवरी में ब्रेक लिया था। इसे देखते हुए कोहली ने बांग्लादेश के खिलाफ खेली जाने वाली टी-20 सीरीज में आराम करने का फैसला लिया गया है।

एनआईए के डीजी के मुताबिक उन्होंने अलग-अलग एजेंसियों को ऐसे संदेहास्पद लोगों के नाम भी सौंपे हैं। इनमें 125 संदेहास्पद लोगों के नाम शामिल हैं। यह लोग सोशल मीडिया के जरिए भी आतंक की इस खेती को और मजबूत करने में जुटे हुए हैं।

माना जा रहा है कि भारत और बांग्लादेश के बीच छह-सात समझौतों पर हस्ताक्षर होंगे। साथ ही तीन परियोजनाओं का उद्घाटन किया जाएगा। प्रधानमंत्री के बाद शेख हसीना का राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से भी मिलने का कार्यक्रम है।

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने खुलकर एनआरसी का समर्थन कर दिया है। शेख हसीना इन दिनों दिल्ली में है। वे इंडिया इकोनामिक समिट में हिस्सा लेने के लिए आई हुई हैं। एनआरसी पर शेख हसीना के समर्थन से उन पार्टियों को गहरा धक्का लगा है जो इसे मुद्दा बनाकर राजनीति चमकाने की कोशिश में थीं।

अफगानिस्तान ने इससे पहले आयरलैंड के खिलाफ अपनी पहली टेस्ट जीत दर्ज की थी। अफगानिस्तान की टीम अपने शुरुआती तीन टेस्ट में से दो मुकाबले जीतने वाली दूसरी टीम बन गई है। अफगानिस्तान से पहले आस्ट्रेलिया ने यह कारनामा किया था।