bank

जिस तरह कोरोना का संकट बढ़ा है उससे साफ है कि भारतीय अर्थव्यवस्था की हालत काफी खराब है। लॉकडाउन की वजह से लगभग सभी तरह के काम-धंधे बंद पड़े हैं और हर दिन 35 हजार करोड़ का नुकसान हो रहा है।

वित्त मंत्री ने इसके साथ ही कहा कि बैंकिंग कर्मचारी सक्रिय तौर पर अपने कार्यों में जुटे हैं। उन्होंने कहा कि बैंकों में सोशल डिस्टेंसिंग (एक-दूसरे से उचित दूरी) का ख्याल रखा जा रहा है और जरूरत के आधार पर सेनिटाइजर उपलब्ध कराया जा रहा है।

बैंकिंग क्षेत्र में एक बड़ा कदम उठाते हुए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने वीडियो KYC को मंजूरी दे दी है। अब लोग घर बैठे वीडियो कॉल के जरिए KYC करा सकेंगे। इसके लिए आधार का सहारा लिया गया है। यह कस्टमर आइडेंटिफिकेशन प्रोसेस को मंजूरी देने का वैकल्पिक तरीका है।

देश के केंद्रीय बैंक आरबीआई ने लोन लेनेवालों के हक में बड़ा फैसला किया है। अब रिजर्व बैंक की तरफ से नीतिगत ब्याज दर में कटौती होते ही होम लोन, ऑटो लोन, पर्सनल लोन, सूक्ष्म एवं लघु उद्योगों को मिलने वाले लोन आदि की ब्याज दर में भी तुरंत कटौती की जाएगी।

सोमवार 1 जुलाई से RBI बैंक से पैसे के लेन-देन से जुड़ी 7 चीजों को बदलने वाला है। इन बदलाव से आपकी  जेब और जिंदगी पर सीधा असर पड़ने वाला है।

एटीएम में कैश को लेकर छोटे शहरों में अक्सर दिक्कतें देखी जाती हैं। कई-कई दिन तक नो-कैश के बोर्ड टंगे मिलते हैं। लोगों की समस्याओं को देखते हुए आरबीआई ने इस मामले में कड़ा रुख अपनाने का फैसला किया है।

सरकारी बैंक पंजाब नेशनल बैंक ने मंगलवार को बताया कि मार्च में खत्म हुए पिछले वित्तवर्ष की चौथी तिमाही में उसे 4,750 करोड़ रुपये का घाटा हुआ, हालांकि पिछले वर्ष इसी अंतराल में उसे 13,417 करोड़ रुपये का लाभ हुआ था।

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने बुधवार को बैंकों और वित्तीय संस्थानों को निर्देश दिया कि वे आईएलएंडएस और उसके समूह की कंपनियों पर अपने बकाया कर्ज का खुलासा करें, जिसमें आय की पहचान और वर्गीकरण (आईआरएसी) के लिए किए गए प्रावधान और एनपीए (फंसे हुए कर्जे) के लिए किए गए वास्तविक प्रावधान की भी जानकारी दी जाए।

देश में तरलता के संकट को देखते हुए भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने मंगलवार को कहा कि वह अगले महीने 25,000 करोड़ रुपये की सरकारी प्रतिभूतियां खरीदेगा, जो 12,500 करोड़ रुपये की दो नीलामी के माध्यम से खरीदी जाएगी।

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने मंगलवार को कहा कि उसने 423.67 करोड़ रुपये की गैर-निष्पादित आस्तियों (एनपीए या फंसे कर्ज) की बकाया वसूली के लिए उसे नीलाम करेगा।