Bharat Bandh

Bharat Bandh: देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस भी भारत बंद के बहाने राजनीति करने से बाज नहीं आई। इसी कड़ी में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के सबसे करीबियों में से एक पार्टी के दिग्गज नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला (Randeep Singh Surjewala) भी इस बंद को अपना समर्थन देने पहुंचे थे। लेकिन उनका ये समर्थन किसानों को बिल्कुल रास नहीं आया।

Bharat Bandh: केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों (Farm Laws) के खिलाफ किसान संगठनों का विरोध प्रदर्शन (Farmers Protest) मंगलवार को भी जारी है।इसी के मद्देनजर किसानों ने विरोध में आज भारत बंद कर दिया है। वहीं किसानों के बंद को कांग्रेस समेत सभी बड़ी पार्टियों ने अपना समर्थन दिया है।

इस पूरे मामले पर कांग्रेस के नेता आचार्य प्रमोद कृष्णन (Acharya Pramod) ने प्रियंका चोपड़ा के ट्वीट को लेकर जो लिखा वह सोशल मीडिया पर लोगों को नहीं भा रही है। लोग आचार्य प्रमोद को उनके द्वारा किए गए ट्वीट की वजह से ट्रोल करने लगे हैं। आचार्य प्रमोद ने अपने ट्वीट में लिखा है कि प्रियंका चोपड़ा (Priyanka Chopra) ने भी किसानों का “समर्थन”कर दिया, अब तो मान जाओ।

Award Wapsi: भारत भूषण त्यागी(Bharat Bhushan Tyagi) को 2019 में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद(Ramnath Kovind) ने पदमश्री(Padmashri) पुरस्कार देकर सम्मानित किया था। उन्हें देशभर में जैविक खेती में नाम कमाने वाले प्रगतिशील किसान के रूप जाना जाता है।

किसानों ने आज भारत बंद (Bharat Bandh) का आवाह्न किया। इस कई लोगों का समर्थन मिल रहा है। इस लिस्ट में दिल्ली विश्वविद्यालय के शिक्षकों (Delhi University Teachers) का नाम भी शामिल हो गया है। दरअसल, किसानों के आंदोलन (Farmer Protest) को दिल्ली विश्वविद्यालय के शिक्षकों ने समर्थन देने का ऐलान किया है।

Bharat Bandh: बता दें कि उदित राज(Udit Raj) सोशल मीडिया(Social Media) पर काफी एक्टिव रहते हैं। हालांकि वो अलग बात है कि उनसे अधिक उन्हें ट्रोल करने वाले सक्रिय दिखते हैं।

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) लगातार किसान आंदोलन (Farmer Protest) का विरोध करती नजर आ रही हैं। इस मुद्दे पर उन्होंने लगातार अपनी राय रखी। जिसके चलते काफी विवाद भी हुआ साथ ही उनकी अन्य सेलेब्स के साथ बहस भी हो गई।

Bharat Bandh: योगी सरकार(Yogi Government) द्वारा लखनऊ के ग्रामीण क्षेत्रों में धारा 144 लागू कर दी गई है। वहीं लखनऊ के अलावा शहर के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में भी पांच या इससे अधिक व्यक्तियों द्वारा जुलूस, धरना-प्रदर्शन, रैली और घेराव पर प्रतिबंध है।

Farmers Protest: वहीं कृषि कानूनों (Agriculture Bill) के खिलाफ जारी किसान आंदोलन (Farmers Movement) को लेकर लंबे समय से लोगों के निशाने पर आ रहे भाजपा के नेता, गुरदासपुर पंजाब से सांसद और बॉलीवुड स्टार सन्‍नी देओल (Sunny Deol) ने भी अब अपनी तरफ से इस आंदोलन को लेकर बयान दिया है।

APMC Act: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के प्रमुख और पूर्व कृषि मंत्री शरद पवार (Sharad Pawar) का किसान आंदोलन को लेकर जो बयान आया है उसकी मानें तो केंद्र सरकार ने इस कानून को लेकर जल्दबाजी में फैसला लिया। जिसकी वजह से सरकार को इस तरह की मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है इसके साथ ही पवार ने कहा कि अगर इस मामले में जल्द को समाधान नहीं निकाला गया तो यह आंदोलन पूरे देश में फैल जाएगा और पूरे देश के किसान इसमें शामिल हो जाएंगे।