Business

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में नए साल पर बुधवार को ब्रेक लग गए और उनमें कोई बदलाव नहीं हुआ। मंगलवार को पेट्रोल के दाम में लगातार तीसरे दिन वृद्धि हुई थी जबकि डीजल की कीमत लगातार छठे दिन बढ़े थे।

बाजार ने नए साल 2020 का स्वागत उत्साह के साथ किया। सेंसेक्स और निफ्टी की शुरुआत तेजी के साथ हुई और आरंभिक कारोबार के दौरान दोनों सूचकांकों में बढ़त के साथ कारोबार चल रहा था।

छोटी बचत योजनाओं पर जनवरी-मार्च की तिमाही के लिए ब्याज दर की घोषणा से पहले भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने वित्त मंत्रालय को सुझाव दिया है। केंद्रीय बैंक का कहना है कि छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरें बाजार दरों के समान हों जिससे बैंकों के हस्तांतरण में सुधार हो।

फ्लिपकार्ट के स्वामित्व वाले ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म मिंत्रा ने घोषणा की है कि पिछले साल की तुलना में उसके प्रमुख 'एंड ऑफ रीजन' बिक्री के 11वें संस्करण ने 50 फीसदी अधिक ऑर्डर प्राप्त करके एक रिकॉर्ड बनाया है।

विदेशी बाजारों से मिले मजबूत संकेतों से शुक्रवार को भारतीय शेयर बाजार की शुरुआत तेजी के साथ हुई। आरंभिक कारोबार के दौरान सेंसेक्स 160 अंक से ज्यादा उछला और निफ्टी में भी जोरदार तेजी दर्ज की गई।

देश के सबसे बड़े धनकुबेर और रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) के चेयरमैन मुकेश अंबानी की दौलत में इस साल 16.5 अरब डॉलर का इजाफा हुआ और उनकी संपत्ति का कुल मूल्य 60.8 अरब डॉलर हो गया है। यह आकलन ब्लूमबर्ग बिलनेयर इंडेक्स पर आधारित है।

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने कहा है कि हाल के वर्षों में भारत की उच्च विकास दर के बावजूद औपचारिक क्षेत्र के रोजगार में उस हिसाब से वृद्धि नहीं हुई। यानी आर्थिक वृद्धि दर और रोजगार वृद्धि दर में मेल नहीं है और श्रम बाजार की भागीदारी घटी है।

घरेलू शेयर बाजार में मंगलवार को फिर तेजी के साथ कारोबार की शुरुआत हुई और सेंसेक्स आरंभिक कारोबार के दौरान फिर 41,700 के ऊपर चला गया और निफ्टी में भी 20 अंकों से ज्यादा का उछाल रहा।

जीएसटी काउंसिल की बैठक के पहले घरेलू शेयर बाजार में बुधवार को तेजी के रुझान के बीच सेंसेक्स ने फिर नई ऊंचाई को छुआ और निफ्टी 12,200 के करीब पहुंच चुका है।

मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस ने चालू वित्त वर्ष के लिए भारत की आर्थिक विकास दर के अपने अनुमान में कटौती की है। रेटिंग एजेंसी ने सोमवार को कहा कि उपभोग मांग सुस्त रहने के कारण चालू वित्त वर्ष 2019-20 में भारत की आर्थिक विकास दर 4.9 फीसदी रह सकती है।