China

India-China Standoff: इस दौरान कमांडर्स हॉट स्प्रिंग्स, गोगरा और 900 वर्ग किमी वाले डेपसांग मैदान जैसे टकराव वाली जगहों को लेकर बात करेंगे। यह बातचीत सुबह 10 बजे चीनी पक्ष के मोल्डो में शुरू होगी। बता दें कि डेपसांग को पिछले साल मई में शुरू हुए गतिरोध का हिस्सा नहीं माना जा रहा था।

Parliamentary panel on Defence: वहीं बैठक के दौरान राहुल गांधी ने पूछा कि आखिर क्यों केंद्र सरकार ने जब पहले 126 राफेल विमानों के लिए समझौता किया था तो उसे घटाकर 26 कर दिया। इसके अलावा उन्होंने एक बार फिर आरोप लगाया कि चीनी सेना ने भारत की ज़मीन पर कब्जा कर लिया।

Galwan Valley China Death: चीनी मीडिया चाइना ग्लोबल टेलीविजन नेटवर्क (सीजीटीएन) ने दावा किया है कि पीएलए के पांच सैनिकों को मानद उपाधि और प्रथम श्रेणी के मेरिट प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया गया है। इसमें कहा गया कि जून, 2020 में सीमा पर हुए एक संघर्ष के दौरान चार चीनी सैनिकों को मरणोपरांत मानद उपाधियों और प्रथम श्रेणी के योग्यता पुरस्कारों से सम्मानित किया गया, जिसकी घोषणा शुक्रवार को केंद्रीय सैन्य आयोग (सीएमसी) ने की।

US Strong Message to China: बाइडेन (Joe Biden) ने अपने कड़े संदेश में कहा है कि चीन द्वारा पेश की जाने वाली चुनौतियों का अमेरिका(America) सीधे तौर पर सामना करेगा, लेकिन अगर बीजिंग के साथ मिलकर काम करना देशहित में होगा तो वो इससे भी नहीं कतराएगा।

Pakistan:पाकिस्तानी सेना (Pakistani Army) के मेजर जनरल अयमान बिलाल (Major General Ayman Bilal) ने कहा, "अगर एफएटीएफ का खतरा टल गया, तो हम ईरान के अंदर जाएंगे और कार्रवाई करेंगे। ईरान पाकिस्तान का सबसे बड़ा दुश्मन है, जिसका सीधा हाथ बलूचिस्तान की अस्थिरता में है।"

चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने सीरम इंस्टीट्यूट में आग लगने की घटना के बाद भारत के वैक्सीन मैन्युफैक्चरिंग क्षमता पर निशाना साधा है। ग्लोबल टाइम्स ने यह भी दावा किया है कि चीन में रहने वाले भारतीय चीनी वैक्सीन को तरजीह दे रहे हैं।

India Vaccine; दरअसल वैक्सीन को लेकर भारत(India) ने जो चाल चली है, उससे चीन को दक्षिण एशिया में बैकफुट पर चला गया है। वहीं चीनी सरकार के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स (Global Times) भारत के अभियान के खिलाफ अब दुष्प्रचार और बदनाम करने लगा है।

Ladakh Standoff: पूर्वी लद्दाख (Eastern Ladakh) में एलएसी पर भारत (India) और चीन (China) के बीच बीते कई महीनों से तनातनी जारी है। इस बीच करीब ढाई महीने के अंतराल के बाद रविवार 24 जनवरी को भारत और चीन के बीच सैन्य अधिकारी स्तर की 9वें दौर की बातचीत हुई।

India China : बता दें कि इससे पहले 6 नवंबर को दोनों देशों के बीच वार्ता हुई थी। हर बार की तरह इस बार भी चीन के साथ वार्ता के दौरान विदेश मंत्रालय का एक अधिकारी बतौर प्रतिनिधि वहां पर मौजूद रहेगा।

Jack Ma: जैक मा सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहते हैं, लेकिन कुछ महीनों से उनकी कोई नई पोस्ट भी सामने नहीं आई थी। ऐसे में लोगों का कहना था कि जैक मा को चीनी सरकार की आलोचना करने की कीमत चुकानी पड़ रही है।