Citizenship Amendment Act

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के विरोध में प्रदर्शन करने वालों को सोमवार को कोरोनावायरस से भी खतरनाक बताया है।

ताहिर हुसैन के साथ काम करने वाले बाप बेटे का दिल्ली दंगों में बड़ा रोल सामने आया है। रियासत अली और लियाकत अली नाम के इन दोनों बाप बेटों पर आरोप है कि चांद बाग में हिंसा के दौरान ये दोनों ताहिर हुसैन की छत पर मौजूद थे।

कपिल मिश्रा को लेकर एक फेक न्यूज एनडीटीवी की तरफ से प्रसारित किया गया जिसके बाद चैनल को इस पूरे प्रकरण पर सोशल मीडिया पर सफाई देनी पड़ी।

मोहसिन रजा ने कहा कि सीएम योगी ने कहा था कि हम सीएए विरोध के नाम पर उपद्रव करने वालों को बेनकाब करेंगे, तो ये वो उपद्रवी चेहरे हैं, जिन्होंने प्रदेश की जनता को नुकसान पहुंचाया।

कांग्रेस नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों के दौरे पर है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी इस प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा हैं।

दिल्ली पुलिस कमिश्नर एस.एन.श्रीवास्तव, विशेष आयुक्त सतीश गोलचा ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को राष्ट्रीय राजधानी की मौजूदा स्थिति से अवगत कराया।

सुप्रीम कोर्ट ने 22 जनवरी को सीएए पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था। कोर्ट ने कहा था कि इस मामले पर पांच जजों की बेंच सुनवाई करेगी।

आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर ने रविवार को उत्तर-पूर्वी दिल्ली में दंगा पीड़ितों से मुलाकात करते हुए कहा कि सरकारी मुआवजा पर्याप्त नहीं है और आत्मविश्वास को बहाल करना ही होगा।

रविशंकर प्रसाद ने विपक्ष पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा कि पहले हमें चुनाव में हराओ और अपनी सरकार बनाओ। हमें सेक्युलरिज्म का पाठ मत पढ़ाओ।

ओडिशा के भुवनेश्वर जनता मैदान में शुक्रवार को सीएए के समर्थन आयोजित विशाल जनसभा को संबोधित करने पहुंचे गृहमंत्री अमित शाह का यहां भव्य स्वागत किया गया।