Citizenship Amendment Act

इटावा में सड़क पर उतरे प्रदर्शनकारियों को एसएसपी संतोष मिश्रा ने सीएए और नेशनल सिटीजन रजिस्टर (एनआरसी) में फर्क समझाया।

केंद्र सरकार से नए कानून को वापस लेने का आग्रह करते हुए बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की प्रमुख मायावती ने शनिवार को कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) पर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के नेताओं में असहमति अब स्पष्ट रूप से देखी जा सकती है।

उत्तर प्रदेश में नागरिकता (संशोधन) कानून के खिलाफ हो रहे हिंसक प्रदर्शनों के चलते 22 दिसंबर को प्रस्तावित उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी टीईटी) 2019 को फिलहाल स्थगित कर दिया गया है।

देशभर में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ हो रहे हिंसक प्रदर्शन के बीच बेंगलुरू में एक आईपीएस रैंक के पुलिस अधिकारी ने राष्ट्रगान गाकर प्रदर्शनकारियों का दिल जीत लिया, जिसके बाद प्रदर्शनकारी शांतिपूर्वक वहां से लौट गए।

शुक्रवार को उद्योग संगठन एसोचैम की वार्षिक आम सभा को एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि देश के लिए काम करने में काफी गुस्सा झेलना पड़ता है, कई लोगों की नाराजगी झेलनी पड़ती है इसके अलावा कई आरोपों से गुजरना पड़ता है।

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने गुरुवार को राजधानी लखनऊ और संभल में हुए हिंसक विरोध प्रदर्शन पर बिना किसी का नाम लिए समाजवादी पार्टी (सपा) और कांग्रेस पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि किसी भी विरोध प्रदर्शन या धरने में हिंसा के लिए कोई जगह नहीं है।

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और एनआरसी के मसले पर देशभर में हिंसक प्रदर्शनों के बाद केंद्र सरकार ने जनता से बहकावे में न आने की अपील की है। सीएए और एनआरसी पर उठते सवालों का जवाब देकर सरकार ने शंकाओं का समाधान करने की कोशिश की है।

जनीकांत ने कहा, "हिंसा किसी भी समस्या को हल करने का मार्ग नहीं होना चाहिए। भारतीय लोगों को एकजुट होना चाहिए और उनके दिमाग में राष्ट्र की सुरक्षा और कल्याण के लिए सतर्क रहने की बात होनी चाहिए।"

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में उत्तर प्रदेश के संभल में हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद यूपी पुलिस एक्शन में आ गई है। पुलिस ने संभल से समाजवादी पार्टी (सपा) के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क और जिलाध्यक्ष फिरोज खान पर मुकदमा दर्ज किया है। उनके साथ ही 17 नामजद और 250 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के विरोध में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सारी सीमाएं लांघते हुए बड़ा बयान दिया है। बता दें, ममता ने कहा कि अगर भाजपा में हिम्मत है तो वह एनआरसी व सीएए पर संयुक्त राष्ट्र (यूएन) की निगरानी में जनमत संग्रह कराए। इसे संयुक्त राष्ट्र मॉनिटर करे।