#CitizenshipAmendmentAct

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश के बाद लखनऊ के चौराहों पर इन तमाम उपद्रवियों के पोस्टर लगाए जा रहे हैं। इन तमाम लोगों पर प्रदर्शन के नाम पर सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का आरोप है।

पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव में अभी समय है लेकिन भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने इसकी तैयारियां शुरू कर दी हैं। इस सिलसिले में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा एक दिन के दौरे पर आज कोलकाता पहुंच रहे हैं।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को अनुच्छेद 370 को रद्द करने के सरकार के फैसले को ऐतिहासिक करार देते हुए कहा कि इसने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के समान विकास का मार्ग प्रशस्त किया है।

इसी तरह दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में लोगों ने गणतंत्र दिवस के मौके पर झंडा लहराया। हज़ारों की संख्या में लोग ध्वजारोहण के लिए एकत्रित हुए। ध्वजारोहण के लिए एक अलग से मंच बनाया गया था। शाहीन बाग में हज़ारों लोगो ने एक साथ मिलकर राष्ट्रगान गया।

उत्तर प्रदेश पुलिस ने नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के खिलाफ लखनऊ में घंटाघर पर विरोध प्रदर्शन करने के लिए मशहूर उर्दू शायर मुनव्वर राणा की बेटियों और कई अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव की 14 वर्षीय बेटी टीना यादव को कुछ दिन पहले यहां एक सीएए विरोधी रैली में भाग लेते देखा गया। टीना रविवार को घंटा घर पहुंचीं, जहां सैकड़ों महिलाएं नागरिकता कानून के विरोध में बैठी थीं और उन्होंने महिलाओं से बात की।

आपको बता दें कि तीस हजारी कोर्ट से जमानत मिलने के बाद चंद्रशेखर ने दिल्ली में कई जगह दौरा किया। शुक्रवार दोपहर को चंद्रशेखर दिल्ली की जामा मस्जिद पहुंचे और समर्थकों के साथ नागरिकता संशोधन एक्ट का विरोध किया।

घायल होने वाले पुलिस वालों में  57 पुलिसकर्मी प्रदर्शन के दौरान गोली लगने से घायल हुए हैं। बता दें यूपी में इस कानून को लेकर हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है।

नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में एक बड़ा अभियान छेड़ दिया गया है। इस अभियान में देश के विभिन्न विश्वविद्यालयों के ग्यारह सौ से अधिक शिक्षाविद और बुद्धिजीवियों ने बयान जारी किया है। इस संयुक्त बयान में कहा गया है कि व्यक्तिगत क्षमता के आधार पर हम इस कानून का समर्थन करते हैं।

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर पूरे प्रदेश में मचे घमासान के बीच भ्रम और अफवाहों को दूर करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंत्रियों को मोर्चे पर लगाया है। मुख्यमंत्री योगी ने मंत्रियों को क्षेत्रों के दौरे और नोडल जिले में भ्रमण के दौरान लोगों को सीएए के विभिन्न पहलुओं को प्रमुख रूप से बताने के निर्देश दिए हैं।