CM Yogi Adityanath

भड़काऊ बयानों के आरोपी डॉ कफील खान पर योगी सरकार ने रासुका लगा दी है। कफील खान गोरखपुर मेडिकल कॉलेज गैस कांड में भी आरोपी हैं। नागरिकता कानून को लेकर जारी विरोध प्रदर्शन में भड़काऊ भाषण देने के आरोप में डॉक्टर कफ़ील पहले से मथुरा जेल में बन्द हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पूरी कैबिनेट पेपरलेस होने जा रही है। 18 फरवरी को लखनऊ में हो रही कैबिनेट की बजट बैठक के साथ ही पेपरलेस होने की प्रकिया शुरू हो जायेगी। इसके लिए कैबिनेट के मंत्रियों को आईपैड देने की व्यवस्था की जा रही है।

अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट (एडीएम) कोर्ट ने बुधवार को मामले में सुनवाई करते हुए 20 दिसंबर को मुजफ्फरनगर में प्रदर्शन के दौरान 'सार्वजनिक संपत्ति को हुए व्यापक नुकसान' का हवाला देते हुए यह आदेश दिया। सीसीटीवी फुटेज के माध्यम से सभी आरोपियों की पहचान कर ली गई है।

उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले में एक दर्दनाक सड़क हादसा हुआ है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर एक डबल डेकर वॉल्वो बस खड़े ट्रक में जा घुसी। इस हादसा में 14 लोगों की मौत हो गई है, जबकि दर्जनों लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं।

उत्तर प्रदेश विधान मंडल का बजट सत्र 13 फरवरी से शुरू हो रहा है। यह 7 मार्च तक चलेगा। वर्ष 2020 के इस प्रथम सत्र का विस्तृत कार्यक्रम जारी कर दिया गया है। 18 फरवरी को योगी सरकार अपना चौथा बजट प्रस्तुत करेगी। यूपी सरकार का बजट लगभग 5 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा होने की संभावना है।

रक्षामंत्री द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार, डिफेंस एक्सपो का मुख्य आयोजन आज से वृंदावन सेक्टर-15 में शुरू हो रहा है जो नौ फरवरी तक चलेगा। वृंदावन में दर्शकों की प्रवेश सिर्फ आठ व नौ फरवरी को होगी। यहां एयरफोर्स व सेना की ओर से लाइव डेमो की प्रस्तुतियां होंगी। जबकि गोमती रिवर फ्रंट पर दर्शकों के लिए 5 से 9 फरवरी तक नेवल के लाइव शो आयोजित होंगे।

योगी सरकार लखनऊ के शाहीनबाग पर सख्त हो गई है। लखनऊ प्रशासन ने घण्टाघर पर प्रदर्शन कर रही महिलाओं को अल्टीमेटम दिया है। उन्हें 24 घण्टे के अंदर घण्टाघर खाली करने का अल्टीमेटम दिया गया है।

उत्तर प्रदेश के फरुर्खाबाद जिले के मोहम्मदाबाद इलाके में करथिया गांव में एक सिरफिरे ने जन्मदिन के बहाने 23 मासूमों को 11 घंटे तक खौफ में कैद रखा। हालांकि, करीब 8 घंटे चले ऑपरेशन के बाद यूपी पुलिस 23 बच्चों की जिंदगी बचाने में कामयाब रही।

जहां एक तरफ दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ शाहीन बाग में चल रहा मुद्दा गरम है। वहीं दूसरी तरफ दिल्ली विधानसभा चुनाव-2020 में BJP उम्मीदवारों के पक्ष में प्रचार के लिए अब यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी मोर्चा संभाल लिया है।

मुख्यमंत्री ने संगम के तट पर पूजा भी की और उसके बाद सेल्फी पॉइंट पर फोटो भी खिंचवाईं। इसके साथ ही बैलून उड़ाकर स्वच्छता का सन्देश दिया। इस अवसर पर उन्होंने पतंग भी उड़ाई।