CM Yogi Adityanth

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आरके तिवारी द्वारा जारी एक आदेश के अनुसार, कंटेनमेंट जोन में प्रतिबंध जारी रहेगा। वहीं शहरी क्षेत्रों में एक कंटेनमेंट जोन एक संक्रमित व्यक्ति या कॉलोनी के आसपास 250 मीटर के दायरे में होगा, जो कि 250 मीटर की त्रिज्या के साथ बफर क्षेत्र के साथ संक्रमित व्यक्तियों के एक क्लस्टर के आसपास 500 मीटर या उससे छोटा है।

लॉकडाउन के दौरान भी यूपी की बंद पड़ी औद्योगिक इकाईयों से योगी सरकार ने हर कर्मचारी को भुगतान सुनिश्चित किया है। इन इकाईयों ने अब तक 1592.37 करोड़ रुपए वेतन और मानदेय का बड़ा भुगतान किया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ गुरुवार को कानपुर आए शहरी विकास विभाग के प्रमुख सचिव मनोज कुमार सिंह ने कहा कि कानपुर में नदी में सभी 16 नालों से बहने वाले 300 एमएलडी को गुरुवार रात से स्थायी रूप से बंद कर दिया गया है।

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पूर्वाचल में संगठन पदाधिकारियों के साथ बैठक के बाद गुरुवार...