Corona Case

अगर पूरी दुनिया की बात करें तो अबतक 55 लाख से अधिक लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं, जबकि तीन लाख पचास हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देशभर में मंगलवार सुबह तक कोरोना के मरीजों की संख्या 1 लाख 45 हजार 380 हो गई है। जिसमें 80,722 सक्रिय मामले हैं।

महामारी के चलते हुई दस हजार से अधिक मौतों वाले अन्य देशों में 32 हजार 785 मौतों के साथ इटली, 28 हजार 752 मौतों के साथ स्पेन, 28 हजार 370 मौतों के साथ फ्रांस और 22 हजार 666 मौतों के साथ ब्राजील शामिल हैं।

पिछले 24 घंटे में महाराष्ट्र में 3 हजार से अधिक नए मामले सामने आए हैं। अब यहां कुल मरीजों की संख्या 50 हजार के पार है और 1635 लोगों की मौत हो चुकी है।

यूपी के डीजी मेडिकल केके गुप्ता ने कोरोना के मरीजों को मोबाइल साथ ले जाने पर पाबंदी लगाने का आदेश दिया था।मगर अब नए आदेश के मुताबिक रोगियों व स्वास्थ्यकर्मियों को कुछ शर्तों के साथ मोबाइल फ़ोन रखने की इजाजत दी गई है।

श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के यात्रियों के बीच वितरण के लिए रखी स्नैक्स और पानी की बोतलों को पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन पर प्रवासियों श्रमिकों ने लूट लिया।

शुक्रवार को राज्य में कोरोना वायरस (COVID-19) का एक और मामले सामने आया, जिसके बाद  मरीजों की संख्या 26 हो गई। राज्य स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक 24 एक्टिव केस हैं और दो लोग संक्रमण से उबर गए हैं।

हेल्थ मिनिस्ट्री ने कहा कि कुल मिलाकर कोविड-19 से जुड़ी मौतों का आंकड़ा सोमवार को अपडेट किया जाएगा। हालांकि, फ्रांस में गुरुवार तक कोरोनावायरस महामारी से मरने वालों की कुल संख्या 28 हजार 215 दर्ज की गई थी।

देश में लॉकडाउन के करीब दो महीने पूरे होने को हैं। इस बीच, सरकार ने दावा किया कि लॉकडाउन के प्रभाव को लेकर कराए विश्लेषणों के अनुसार 14-29 लाख संक्रमण तथा 37-78 हजार मौतें रोकी गई हैं।

प्रवासी मजदूरों के पैदल ही सैकड़ों किलोमीटर दूर घर जाने को विपक्ष ने मुद्दा बनाया तो केंद्र सरकार को असहज होना पड़ा। लेकिन केंद्र सरकार का मानना है कि प्रवासी मजदूरों की समस्या कई राज्यों के असहयोग के कारण उत्पन्न हुई।