Coronavirus Pandemic

Nobel Peace Prize 2020 : शुक्रवार को साल 2020 के नोबेल शांति पुरस्कार (Nobel Peace Prize) की घोषणा कर दी गई है। इस बार ये किसी व्यक्ति नहीं बल्कि एक संस्था को मिला है। इस बार ये सम्मान वर्ल्ड फूड प्रोग्राम (World Food Programme) संगठन को दिया गया है।

वैश्विक महामारी कोरोनावायरस (Coronavirus Pandemic) का कहर दुनियाभर में लगातार बढ़ता ही जा रहा है। कोरोना महामारी से निपटने के लिए विश्वभर में वैक्सीन बनाने का काम चल रहा है।

कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी ने जैसे ही पूरी दुनिया को अपनी चपेट में लिया, तो पूरी दुनिया के देशों ने दूसरे देशों से अपने संपर्क काट लिए।

पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार को संकट दूर करने और आने वाले वर्षों में सामान्य आर्थिक स्थिति को बहाल करने के लिए तीन कदम उठाने चाहिए।

रूस के वैज्ञानिकों का दावा है कि अगस्त के मध्य तक कोरोना वायरस की पहली वैक्सीन को मंजूरी मिल सकती है। इसका मतलब यह हुआ कि रूस कोरोना वायरस की वैक्सीन बाजार में बहुत जल्दी ला रहा है।

जम्मू और कश्मीर सरकार के राजभवन से जारी आदेश में कहा गया है कि वर्तमान परिस्थितियों के आधार पर श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड ने निर्णय लिया कि इस वर्ष की श्री अमरनाथजी यात्रा को आयोजित करना और संचालन करना उचित नहीं है। आदेश में यात्रा को रद्द करने की घोषणा करने पर खेद भी व्यक्त किया गया है।

ओला के प्रवक्ता आनंद सुब्रमण्यन ने एक बयान में कहा, "फोनपे ने देशभर में डिजिटल भुगतान अपनाने का अभियान जारी रखा है। हम उनके साथ इस बदलाव को बढ़ावा देने के लिए उत्साहित हैं, जो हमें डिजिटल इंडिया बनने के करीब ले जाने में सक्षम बनाएगा।"

एयर इंडिया एक आधिकारिक दस्तावेज के अनुसार 38 उड़ानें भारत-ब्रिटेन मार्ग पर तथा 32 उड़ानें भारत-अमेरिका मार्ग पर संचालित होंगी। इसमें कहा गया है कि एयर इंडिया की 26 उड़ानें भारत और सऊदी अरब के बीच चलेंगी।

पीएम मोदी ने कहा, "जब अन्य राज्य कोरोना से लड़ाई में जूझ रहे हैं, यूपी ने अपने विकास के लिए इतनी बड़ी योजना शुरू कर दी है। एक बार फिर आप सभी को रोजगार के इन तमाम अवसरों के लिए बहुत-बहुत बधाई।"

स मामले में भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता और पुरी से लोकसभा चुनाव लड़ चुके बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने अनुरोध किया है कि वह कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर पुरी की भगवान जगन्नाथ रथ यात्रा पर रोक लगाने वाले अपने आदेश की समीक्षा करे।