COVID19

कोरोनावायरस को लेकर दुनियाभर में मचे कोहराम के बीच एक बेहद ही अच्छी खबर सामने आई है। कोरोनावायरस से सबसे अधिक प्रभावित चीन ने एक दवा से अपने हजारों मरीजों को कोरोना वायरस संक्रमण से ठीक करने का दावा किया है।

ट्रंप ने चीन पर आरोप लगाया है कि उसने कोरोनावायरस को लेकर प्रारंभिक सूचना को पूरी दुनिया से छिपाने की कोशिश की जिसकी वजह से आज पूरी दुनिया में ये संकट पैदा हुआ है।

भारत में कोरोना संक्रमित मामलों की संख्या शुक्रवार को 195 पर पहुंच गई है। सुबह 9 बजे केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, 195 मामलों में से 20 लोग ठीक होकर अस्पतालों से जा चुके हैं।

कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खुद को 'वॉर-टाइम प्रेसिडेंट' बताते हुए घोषणा की है कि वह आपातकालीन शक्तियों का आह्वान कर रहे हैं। इसके माध्यम से उन्हें निजी क्षेत्र की क्षमता का उपयोग करने की अनुमति मिल जाएगी।

डॉ. हर्षवर्धन बुधवार को जब दिल्ली के इंदिरा गांधी एयरपोर्ट पहुंचे तो टर्मिनल 3 पर उन्होंने इसी स्क्रीनिंग का जायजा लिया। केंद्रीय मंत्री ने यहां पर यात्रियों और डॉक्टरों से बातचीत भी की और एयरपोर्ट के प्रशासन से भी मिले।

भारतीय सेना के एक जवान में कोविड-19 परीक्षण पॉजिटिव पाया गया। इसके बाद उसे लद्दाख के एक अस्पताल में आइसोलेशन वॉर्ड में रखा गया है। भारतीय सेना में कोरोनावायरस का यह पहला पॉजिटिव मामला है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा सांसद सुरेश प्रभु ने अपने आवास पर खुद को 14 दिनों के लिए एकांतवास (क्वारांटाइन) में रख लिया है। उनकी टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आई है इसके बावजूद उन्होंने एहतियातन यह कदम उठाया है। इससे पहले विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने खुद को अलग कर लिया था।

बता दें कि अमेरिका में सोमवार को कोरोनावायरस के टीके का परीक्षण शुरू हुआ। इस परीक्षण में 45 लोगों को शामिल किया गया है। वैक्‍सीन की इसकी पहली डोज परीक्षण में शामिल लोगों को दी गई है।

ईरान से निकाले गए 53 लोगों का नया बैच सोमवार को जैसलमेर के आर्मी वेलनेस सेंटर पहुंचा। कोरोनावायरस प्रकोप के चलते मध्य-पूर्वी देश में अब तक 700 से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं, जिसके कारण भारत अपने नागरिकों को वहां से निकाल रहा है।

देश में कोरोनावायरस के संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक देश में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 110 हो गई है। जिनमें से 93 मरीज भारतीय जबकि 17 विदेशी हैं।