Delhi CM Arvind kejriwal

सीएम अरविंद केजरीवाल ने इसके लिए पांच सूत्रीय प्लान बनाया हुआ है। दिल्ली सरकार ने कोरोना के एक लाख टेस्टिंग किट के ऑर्डर दिए हैं। किट्स की सप्लाई होते ही दिल्ली में हर दिन एक हजार लोगों के टेस्ट किए जा सकेंगे।

कोरोना को लेकर दिल्ली सरकार ने एक के बाद एक कई बड़े फैसले लिए हैं।  मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कोरोना वायरस की तैयारियों को लेकर जानकारी दी है जिसके मुताबिक कल 22 मार्च को दिल्ली में 50% बसें नहीं चलेंगी।

उत्‍तर-पूर्वी दिल्‍ली में हुई हिंसा में हर रोज नए खुलासे हो रहे हैं। आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन का नाम हिंसा से जुड़ने के बाद भाजपा  हमलावर हो गई है। इसी बीच आईबी स्टाफ अंकित शर्मा पर अब दिल्ली भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी और संबित पात्रा ने केजरीवाल सरकार पर निशाना साधा है।

आप विधायक व मंत्री गोपाल राय ने कहा कि, बाबरपुर में चारों तरफ दहशत का माहौल बना हुआ है दंगाई फायरिंग व आग लगाते घूम रहे हैं लेकिन पुलिस फोर्स नहीं है।

दिल्ली चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) की इस ऐतिहासिक जीत से कांग्रेस में खलबली मची हुई है। आप की प्रचंड जीत के बाद जहां कांग्रेस पार्टी के कुछ नेता जहां केजरीवाल को बधाई दे रहे हैं, वहीं कुछ नेता आम आदमी पार्टी की सरकार की तारीफों को लेकर एक दूसरे से भिड़े हुए हैं।

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) की रिपोर्ट से पता चलता है कि 2015 की तुलना में 2020 के दिल्ली विधानसभा चुनाव में दागी विधायकों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। आम आदमी पार्टी के जीते हुए 62 में से 38 विधायकों (61%) के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं।

अरविंद केजरीवाल की जन्म तिथि का विवरण गूगल से लिया हैं इसलिए मुझे ठीक से ज्ञात नहीं की यह जन्म तारिख कितनी हद तक ठीक है लेकिन फिर भी हम इसके आधार पर कुंडली का फलकथन करेंगे।

कांग्रेस दिल्ली विधानसभा के चुनाव में बुरी तरह पटखनी खा चुकी है। वह कहीं लड़ाई में नजर नहीं आ रही है। इसके बावजूद कांग्रेस के नेता आम आदमी पार्टी की जीत और बीजेपी की हार से बेहद खुश हैं।

दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा है कि वे नतीजों की जिम्मेदारी लेने को तैयार हैं। नतीजा जो भी हो उनका सीना आगे रहेगा। वह सारे वार सीने पर खेलेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि अभी हिम्मत नहीं हारी है।

दिल्ली विधानसभा की 70 सीटों के लिए मतगणना शुरू हो गई है। मुख्य मुकाबला सत्तारुढ़ आम आदमी पार्टी, बीजेपी और कांग्रेस के बीच है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल लगातार तीसरी बार नई दिल्ली से किस्मत आजमा रहे हैं।